scorecardresearch
 

कांग्रेस की लड़ाई भाजपा के धनबल और सांगठनिक ताकत से है: कमलनाथ

कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया से मतभेद को लेकर पूछे गए सवाल पर कमलनाथ ने कहा कि उन्हें कोई भूख नहीं है. वे चाहते हैं कि कांग्रेस आगे आए. विकास का खाका खींचे.

कांग्रेस नेता कमलनाथ (फोटो-PTI) कांग्रेस नेता कमलनाथ (फोटो-PTI)

पंचायत आजतक के 11 वें अहम सत्र- कांग्रेस का खिलेगा 'कमल' में पूर्व केंद्रीय मंत्री कमलनाथ ने शिरकत की. इस सत्र का संचालन राहुल कंवल ने किया.

राहुल कंवल ने कमलनाथ से पूछा कि क्या मध्य प्रदेश में इस बार कमल खिलने जा रहा है? क्या 15 साल की सत्ता विरोधी लहर का फायदा कांग्रेस उठा पाएगी? या फिर एक बार फिर आपस में लड़ भिड़ कर कांग्रेस खुद को हरा देगी? क्या पार्टी में बीजेपी से लड़ने और खुद को जीवित करने की क्षमता एक बार से लौट रही है?

इसके जवाब में मध्य प्रदेश कांग्रेस प्रमुख कमलनाथ ने कहा, जीवित करने का प्रश्न नहीं है. पार्टी तो जीवित है. आज हर कांग्रेस जन में जोश है और जनता में आक्रोश है. हमारा मुकाबला भारतीय जनता पार्टी की संगठन शक्ति से है, इसमें कोई शक नहीं पर साथ-साथ हमारी लड़ाई उनके धनबल से भी है.

कार्यक्रम में कांग्रेस की वापसी पर पूछे गए सवाल के जवाब में कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस चुनाव जीतने जा रही है. कार्यक्रम में सवाल किया गया कि मायावती कांग्रेस को छोड़कर अपने रास्ते पर चली गईं. आपके बारे में  कहा गया था कि आप मास्टर स्ट्रैटेजिस्ट हैं. इस पर कमलनाथ ने कहा कि हमने रणनीति बनाई थी. यह भी रणनीति बनी थी कि गठबंधन न हो तो क्या करेंगे, तो हम वही कर रहे हैं.

गुजरात में जीत को लेकर कमलनाथ ने कहा कि हमने बीजेपी को अच्छी टक्कर दी थी. मध्य प्रदेश की जनता आने वाली पीढ़ियों की सुरक्षा करने के लिए कांग्रेस को जिताएगी. मध्य प्रदेश आज भ्रष्टाचार, कुपोषण, महिलाओं पर अत्याचार में नंबर वन, किसान की आत्महत्या में नंबर वन है.

कांग्रेस में मतभेद के सवाल पर उन्होंने कहा कि हर परिवार में तनाव होता है. हममें कोई तनाव नहीं है. बीजेपी इस पर भरोसा किया तो बड़ी भूल होगी. ज्योतिरादित्य सिंधिया से मतभेद को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा, मुझे कोई भूख नहीं है. मैं चाहता हूं कि कांग्रेस आगे आए. विकास का खाका खींचे.

इस दौरान उन्होंने नारा दिया, हमने पहले हराया था गोरों को अब हराएंगे चोरों को. मुझे गर्व है कि मैं दून स्कूल में पढ़ा हूं. मैं जमीन से जुड़ा हुआ आदमी हूं. एंकर राहुल कंवल ने पूछा, 'राहुल गांधी जब मानसरोवर जाते हैं, तो उन्हें शिवभक्त कहा जाता है, जब वे चित्रकूट जाते हैं तो उन्हें रामभक्त कहा जाता है. उन्हें बड़ा हिंदू साबित करने की कोशिश की जा रही है. यह क्या है?' इसके जवाब में कमलनाथ ने कहा, मैंने छिंदवाड़ा में मध्य प्रदेश की हनुमान जी की सबसे बड़ी मूर्ति लगवाई. क्या हिंदू धर्म पर सिर्फ बीजेपी की ठेकेदारी है? शिवभक्त राहुल के पोस्टर से बीजेपी के पेट में दर्द क्यों होता है.

कमलनाथ ने कहा, हम किसानों का कर्ज माफ करेंगे. आज किसानों को समर्थन मूल्य नहीं मिलता. किसान कहता है कि लागत दिला दो. एमपी की अर्थव्यवस्था कृषि पर आधारित है. कृषि में कमी आएगी तो मध्य प्रदेश की नींव हिल जाएगी. हम किसानों को बोनस देंगे. हफ्ते भर में हमारा घोषणा पत्र आने वाला है. ज्यादा नहीं बताऊंगा नहीं तो बीजेपी नकल कर लेगी. निवेश विश्वास पर होता है. जितने भी औद्योगिक क्षेत्र थे, वहां 70 पर्सेंट उद्योग बंद हो चुके हैं.

उन्होंने कहा, जब किसानों के हाथ में खरीदने की ताकत बढ़ेगी तो आर्थिक गतिविधि बढ़ेगी. घोषणा पत्र में बताएंगे कि आर्थिक विकास को कैसे तेज करेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें