scorecardresearch
 

'काली' पोस्टर विवाद: लीना मणिमेकलई की पोस्ट 36 घंटे में हटाएं, मध्यप्रदेश सरकार की ट्विटर को चिट्ठी

Kaali Poster Controversy: मध्यप्रदेश सरकार ने विवादित फिल्म काली से जुड़ी लीना मणिमेकलई की पोस्ट ट्विटर से हटाने के लिए कंपनी को टिट्ठी लिखी है. क्राइम ब्रांच भोपाल ने फिल्म डायरेक्टर लीना के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी करने की कार्रवाई भी शुरू कर दी है.

X
लीना मणिमेकलई (File Photo)
लीना मणिमेकलई (File Photo)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भोपाल क्राइम ब्रांच ने ट्विटर को भेजी चिट्ठी
  • 36 घंटे के अंदर आपत्तिजनक ट्वीट्स हटाने के लिए कहा

Kaali Poster Controversy: काली पोस्टर विवाद पर फिल्म मेकर लीना मणिमेकलई की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. अब मध्य प्रदेश सरकार ने ट्विटर से लीना के ट्वीट हटाने के लिए कहा है. एमपी के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के निर्देश पर भोपाल के DCP (क्राइम) ने ट्विटर के लीगल डिपार्टमेंट को कार्रवाई के लिए पत्र लिखा है.

चिट्ठी में लीना मणिकेलई के ट्विटर पोस्ट को हटाने के लिए कहा गया है. ये चिट्ठी ट्विटर हेडक्वार्टर को भेजी गई है. पुलिस ने अपनी चिट्ठी में लीना के ट्विट्स के आईपी लॉग की मांग भी की है. पुलिस ने कंपनी से कहा है कि अगले 36 घंटे के अंदर आपत्तिजनक ट्वीट्स हटा लिए जाएं.

इसके साथ ही क्राइम ब्रांच भोपाल ने फिल्म डायरेक्टर लीना के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी करने की कार्रवाई भी शुरू कर दी है. इस प्रारूप को ब्यूरो ऑफ इमिग्रेशन को भेजने की तैयारी चल रही है.

नोएडा में भी शिकायत

नोएडा में भी एक सामाजिक कार्यकर्ता ने फिल्म काली की डायरेक्टर के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है. सामाजिक कार्यकर्ता ने आरोप लगाया है कि फिल्म के पोस्टर से धार्मिक भावनाओं को आहत पहुंची. राजन कुमार ने श्री चित्रगुप्त सभा ट्रस्ट नोएडा के जरिए शिकायत की है.

क्या है पूरा विवाद?

इस मसले की शुरुआत लीना मणिमेकलई (Leena Manimekalai) नामक फिल्म मेकर के एक पोस्टर शेयर करने के बाद हुई. लीना ने अपनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म 'काली' का पोस्टर सोशल मीडिया पर शेयर किया था. इस पोस्टर में मां काली को सिगरेट पीते दिखाया गया. इसके साथ ही उनके एक हाथ में एलजीबीटी समुदाय का सतरंगा झंडा भी था. पोस्टर के सामने आते ही देशभर में इस पर बहस छिड़ गई.

कनाडा में रहती हैं फिल्म मेकर

फिल्म काली का विवादित पोस्टर जारी करने वाीलीं फिल्म मेकर लीना कनाडा में रहती हैं और सालों से फिल्म बना रही हैं. उनकी ये डॉक्यूमेंट्री फिल्म कनाडा में दिखाई जाएगी. लीना के मुताबिक, उनकी डॉक्यूमेंट्री फिल्म टोरंटो में 'अंडर द टेंट' प्रोजेक्ट का हिस्सा है. लीना ने सोशल मीडिया पर 2 जुलाई को इसका पोस्टर रिलीज किया था. पोस्टर सामने आने के बाद #ArrestLeenaManimekalai ट्रेंड कर रहा है. विवाद बढ़ने के बाद कनाडा में भारतीय उच्च आयोग ने भी आपत्ति दर्ज कराई है. भारतीय उच्च आयोग ने इस फिल्म पर रोक लगाने की मांग की है.

महुआ मोइत्रा के बयान पर भी बवाल

इस बीच TMC सांसद महुआ मोइत्रा के बयान पर नया विवाद शुरू हो गया है. दरअसल, महुआ से जब काली पोस्टर के मुद्दे पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि उनके लिए काली का मतलब मांस और शराब स्वीकार करने वाली देवी है. हालांकि, टीएमसी ने इस बयान दूरी बना ली और इसकी निंदा की थी. महुआ के बयान के बाद बीजेपी ने टीएमसी सांसद को तुरंत गिरफ्तार करने के लिए शिकायत दर्ज करा दी. कोलकाता, कृष्णानगर और मध्यप्रदेश के भोपाल में भी महुआ के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया. हालांकि, कांग्रेस नेता शशि थरूर ने महुआ का बचाव किया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें