scorecardresearch
 

मध्य प्रदेश में बारिश का कहर, अब तक 32 लोगों की मौत

मध्य प्रदेश में लगातार हो रही बारिश में अब तक 32 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा 200 मवेशी भी मारे जा चुके हैं.

फाइल फोटो (Courtesy- ANI) फाइल फोटो (Courtesy- ANI)

मध्य प्रदेश में लगातार हो रही बारिश ने जबरदस्त तबाही मचाई है. सूबे में बारिश के चलते नदी, नालों और तालाबों में बहने और डूबने से अब तक 32 लोगों की मौत हो चुकी है. साथ ही बारिश के कहर से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो गया है. इस बारिश ने सिर्फ आम लोगों की ही नहीं, बल्कि बेजुबान मवेशियों के लिए भी संकट पैदा कर दिया है.

मंदसौर में मीडिया से बातचीत के दौरान सूबे के राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने बताया कि अब तक की बारिश में 200 मवेशी मारे जा चुके हैं. वहीं, मध्य प्रदेश में मानसून के पूरी तरह से सक्रिय होने और बारिश होने से किसान खुश हैं. ये किसान अच्छी फसल की उम्मीद लगा रहे हैं. मध्य प्रदेश में इस साल अब तक सामान्य से अधिक बारिश दर्ज की जा चुकी है.

मौसम विभाग के मुताबिक मध्य प्रदेश मे एक जून से 10 अगस्त तक 614 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की जा चुकी है, जोकि सामान्य से 64 मिलीमीटर ज्यादा है.

7 जिलों में मूसलाधार बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग ने अगले 48 घण्टों के दौरान रतलाम, अलीराजपुर, झाबुआ, बड़वानी, धार, नीमच और मन्दसौर जिले में मूसलाधार बारिश का अलर्ट जारी किया है. शनिवार को राजधानी भोपाल की बड़ी झील भी अपनी पूरी क्षमता तक भर गई, जिसके बाद इसका पानी निकालने के लिए हद बता डैम के दो गेट खोलने पड़े.

वहीं, बीते 24 घण्टे के दौरान मध्य प्रदेश में सबसे ज्यादा बारिश भाभरा में दर्ज की गई. वहां 19 सेंटीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है. इसके अलावा सरदारपुर में 10 सेंटीमीटर, मनावर मे 9 सेंटीमीटर, अलीराजपुर और मन्दसौर में 8 सेंटीमीटर, सेंधवा में 7 सेंटीमीटर, गंधवानी और सीहोर में 6 सेंटीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें