scorecardresearch
 

मध्य प्रदेश: राज्य के 35 हजार शिक्षकों का ऑनलाइन हुआ तबादला

मध्यप्रदेश में 35 हजार अध्यापकों के तबादले ऑनलाइन किए गए हैं, जिसमें से 43 फीसदी अध्यापकों को पहली चॉइस की जगहों पर ट्रांसफर किया है. वहीं 15 फीसदी अध्यापकों को दूसरी चॉइस और नौ फीसदी को तीसरी चॉइस वाली जगहों पर ट्रांसफर के आदेश दिए हैं

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

मध्य प्रदेश के शिक्षकों के लिए अच्छी खबर है. मध्य प्रदेश में लंबे अरसे बाद 35 हजार शिक्षकों को तबादलों का फायदा मिला है. इसी के साथ ही विभाग ने तबादले का फायदा पाने वाले शिक्षकों को जिला शिक्षाधिकारी कार्यालय के बजाए सीधे तबादले वाले केंद्रों पर उपस्थिति दर्ज कराने को कहा गया है.

मध्यप्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष सैयद जाफर ने मीडिया को बताया, "मध्यप्रदेश में 35 हजार अध्यापकों के तबादले ऑनलाइन किए गए हैं, जिसमें से 43 फीसदी अध्यापकों को पहली चॉइस की जगहों पर ट्रांसफर किया है. वहीं 15 फीसदी अध्यापकों को दूसरी चॉइस और नौ फीसदी को तीसरी चॉइस वाली जगहों पर ट्रांसफर करने के आदेश दिए हैं."

यह शिक्षकों के लिए सबसे सुविधाजनक व्यवस्था मानी जा रही है. सरकारी सूत्रों के अनुसार, 52 जिलों में 35 हजार 733 शिक्षकों के तबादले किए गए हैं. प्रदेश में ऑनलाइन ट्रांसफर में  जिलावार ध्यान रखा गया है.

बता दें मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार आने के बाद कई विभागों में तबादलों की खबर है. बीते महीने एक अजीबो गरीब मामला सामने आया था. रीवा जिले में तबादले की हड़बड़ी में एक सचिव की जगह सरपंच के ही ट्रांसफर आदेश जारी कर दिया गया था. बीते साल मध्य प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस सत्ता पर काबिज हुई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें