scorecardresearch
 

कोरोना को मात दे चुके CM शिवराज करेंगे प्लाज्मा डोनेट, मरीजों की बचाएंगे जान

शिवराज सिंह चौहान 25 जुलाई को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. 11 दिन तक अस्पताल में रहने के बाद वह 5 अगस्त को डिस्चार्ज हुए. अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद सीएम शिवराज क्वारनटीन में हैं.

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (फाइल फोटो) मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (फाइल फोटो)

  • 25 जुलाई को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे सीएम शिवराज
  • 5 अगस्त को अस्पताल से डिस्चार्ज हुए थे मुख्यमंत्री

कोरोना को मात दे चुके मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्लाज्मा डोनेट करने का फैसला लिया है. उन्होंने कहा कि वह इस लोगों की जान बचाने के लिए प्लाज्मा दान करेंगे. शिवराज सिंह चौहान 25 जुलाई को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. 11 दिन तक अस्पताल में रहने के बाद वह 5 अगस्त को डिस्चार्ज हुए. अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद सीएम शिवराज क्वारनटीन में हैं.

सीएम शिवराज ने कहा कि कोरोना महामारी से लोगों की जान बचाने के लिए वह प्लाज्मा दान करेंगे. उन्होंने कहा है कि कोरोना वायरस पर जीत से कम कुछ नहीं चाहिए. प्रदेश में कोरोना की मृत्यु दर को न्यूनतम करने के लिए प्रशासन, चिकित्सक और जनता को साथ मिलकर काम करना होगा.

ये भी पढ़ें- CM शिवराज ने जीती कोरोना से जंग, 11 दिन बाद अस्पताल से हुए डिस्चार्ज

एमपी के सीएम ने कहा कि संक्रमित व्यक्तियों की जल्द पहचान और उन्हें तत्काल चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराना ही बचाव का उपाय है. इसके लिए प्रदेश में जांच की क्षमता बढ़ानी होगी. शिवराज ने प्रदेश में प्रतिदिन 20,000 जांच की क्षमता विकसित करने के निर्देश दिए.

ये भी पढ़ें- यूपी के कानून मंत्री बृजेश पाठक कोरोना पॉजिटिव, तबीयत बिगड़ने पर PGI में भर्ती

25 जुलाई को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि मेरी प्रदेश की जनता से अपील है कि सावधानी रखें, जरा सी असावधानी कोरोना को निमंत्रण देती है. मैंने कोरोना से बचने के हर संभव प्रयास किए लेकिन अनेक विषयों को लेकर लोग मिलते थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें