scorecardresearch
 

इंदौर: मेडिकल टीम पर पथराव को लेकर CM शिवराज सख्त, बोले- होगी कड़ी कार्रवाई

इंदौर में कोरोना वायरस का संक्रमण पिछले दिनों काफी तेजी से फैला है, जिसको लेकर प्रशासन शहर में काफी कड़े कदम उठा रहा है. कई इलाकों को सैनिटाइज किया जा रहा है. ऐसे में एक इलाके में जब मेडिकल टीम कुछ कोरोना संक्रमित मरीजों की पड़ताल करने पहुंची तो स्थानीय लोगों द्वारा टीम पर हमला बोल दिया गया. इस घटना को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कड़े कदम उठाने के संकेत दिए हैं.

एमपी के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने दिखाए कड़े तेवर (फाइल फोटो) एमपी के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने दिखाए कड़े तेवर (फाइल फोटो)

  • शिवराज सिंह चौहान ने दिया है सख्त संदेश
  • पथराव की घटना का वीडियो आया सामने
  • वीडियो के आधार पर कार्रवाई, 4 गिरफ्तार

इंदौर में गुरुवार को डॉक्टरों की टीम पर पथराव की घटना को लेकर राज्य के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने कड़े तेवर दिखाए हैं. गुरुवार को उनके एक ट्वीट से कुछ ऐसा ही इशारा मिल रहा है. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने ट्वीट में लिखा है, "ये सिर्फ़ एक ट्वीट नहीं है. ये कड़ी चेतावनी है... मानवाधिकार सिर्फ मानवों के लिए होते हैं." स्पष्ट है कि प्रदेश की जनता को उन्होंने संदेश दिया है कि जो भी सरकारी आदेश का पालन नहीं करेगा, उसके साथ सख्ती से निपटा जाएगा.

इस ट्वीट से पहले भी मेडिकल टीम के साथ हुई घटना को लेकर सीएम शिवराज ने कुछ ट्वीट किए थे. शिवराज सिंह ने एक वीडियो संदेश भी ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे सभी लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी लेने की बात दोहराई है.

शिवराज सिंह ने ली सुरक्षा की जिम्मेदारी

अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है, "कोविड-19 के खिलाफ युद्ध लड़ने वाले मेरे सभी डॉक्टर्स, नर्सेज, पैरामेडिकल स्टाफ, ANM, आशा कार्यकर्ता, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और नगरीय निकाय कर्मचारी, आप Corona के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखें, आपकी सम्पूर्ण सुरक्षा की जिम्मेदारी मेरी है! मैं आपकी कर्तव्यनिष्ठा को प्रणाम करता हूं!"

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

अपने अगले ट्वीट में शिवराज सिंह ने लिखा है, "इंदौर में हुई दुर्भाग्यपूर्ण घटना में शामिल अराजक तत्वों को किसी भी कीमत पर नहीं छोड़ा जाएगा! पीड़ित मानवता को बचाने के आपके कार्य में कोई भी बाधा डालेगा तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी."

पुलिस ने चार लोगों को किया है गिरफ्तार

आपको बता दें कि पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए इस घटना से संबंधित 4 लोगों को गिरफ्तार किया है. घटना का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसके आधार पर पुलिस आरोपियों की धरपकड़ में जुटी है. यह घटना इंदौर के टाट पट्टी बाखल इलाके की है. यहां स्वास्थ्यकर्मियों पर पथराव किया गया था.

कोरोना पर aajtak.in का विशेष वॉट्सऐप बुलेटिन डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

दरअसल, इंदौर के छतरीपुरा थाना क्षेत्र में जब 2 डॉक्टर, आशा कार्यकर्ता, तहसीलदार के साथ पुलिसकर्मियों की टीम कोरोना वायरस के मरीजों की जांच के लिए पहुंची तो उसी समय वहां के लोगों ने डॉक्टरों की टीम पर हमला बोल दिया और पथराव भी किया था.

क्या कहा कमलनाथ ने

पथराव की घटना पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा, "प्रदेश के इंदौर के रानीपुरा में पूर्व में व कल टाटपट्टी बाखल में स्वास्थ्यकर्मियों के साथ हुए दुर्व्यवहार और पथराव की घटना बेहद दुःखद और निंदनीय है. ऐसा काम करने वाले समाज, इंसानियत और मानवता के दुश्मन हैं. संकट की इस घड़ी में अपनी जान जोखिम में डालकर जनता की सुरक्षा कर रहे और अपने कर्तव्यों का पालन कर रहे डॉक्टर्स, स्वास्थ्यकर्मियों और प्रशासन के अधिकारियों का सभी को आगे आकर सहयोग करना चाहिए. उनके सेवा के जज़्बे को सलाम करना चाहिए. ऐसी घटनाओं से प्रदेश और शहर, देश शर्मसार होता है. प्रशासन, डॉक्टर्स और स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा के पर्याप्त इंतज़ाम करे और ऐसी घटनाओं को रोकने के पुख़्ता इंतज़ाम करे."

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें