scorecardresearch
 

मध्य प्रदेश: भाजपा ने किया 121 जनपदों पर जीत का दावा, कांग्रेस बोली- हमारे 89 उम्मीदवार जीते

मध्य प्रदेश में हुए जनपद पंचायत चुनाव में भाजपा ने 121 सीटें जीतने का दावा किया है. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को कहा कि भाजपा समर्थित उम्मीदवारों ने जनपद पंचायत अध्यक्ष की 121 सीटों पर जीत हासिल की है. कांग्रेस ने भाजपा के दावे को गलत बताते हुए 89 जनपदों में अपने उम्मीदवारों के जीतने का दावा किया है.

X
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

मध्यप्रदेश के जनपद पंचायत चुनाव में भाजपा ने 170 में से 121 सीटें जीतने का दावा किया है. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को कहा कि भाजपा समर्थित उम्मीदवारों ने जनपद पंचायत अध्यक्ष की 121 सीटों पर जीत हासिल की है.

वहीं, कांग्रेस का दावा इससे अलग है. कांग्रेस ने इस चुनाव में 89 जनपद पंतायतों पर जीत हासिल करने का दावा किया है. बता दें कि एमपी के कुल 313 जनपदों में से 170 पर बुधवार को अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद के लिए चुनाव हुए. चुनावों के तुरंत बाद ही वोटों की गिनती शुरू कर दी गई थी.

बीजेपी का दावा है कि उन्होंने 121 जनपदों पर कब्जा जमा लिया. वहीं, कांग्रेस बची 49 सीटों में से 43 पर अपने उम्मीदवारों जीताने में कामयाब रही. दो सीटें स्थानीय गोंडवाना गणतंत्र पार्टी और चार सीटें निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीती हैं.

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने चुनावों में बीजेपी के शानदार प्रदर्शन करने का दावा किया है. उन्होंने कहा कि कई जिले ऐसे भी हैं, जहां इन चुनावों में कांग्रेस का एक भी उम्मीदवार निर्वाचित नहीं हुआ. उन्होंने इसे 2023 में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले भाजपा के लिए शुभ संकेत बताया.

चुनाव अधिकारी के मुताबिक 313 जनपदों में से बचे हुए 143 जनपदों में गुरुवार को मतदान होगें. ये चुनाव बिना पार्टी सिंबल के हुए थे. बता दें कि चुने गए पंचायद सदस्य ही जनपद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का चुनाव करते हैं.

मध्य प्रदेश कांग्रेस मीडिया सेल के अध्यक्ष केके मिश्रा ने दावा किया कि उनकी पार्टी के समर्थित उम्मीदवारों ने 89 पंचायतों पर जीत हासिल की है. मिश्रा ने दावा किया कि मुख्यमंत्री के गृह जिले सीहोर के नसरुल्लागंज के भाजपा नेता देवी सिंह धुर्वे कांग्रेस में शामिल हो गए. केके मिश्रा ने कहा कि धुर्वे को नामांकन दाखिल करने की अनुमति नहीं दी गई थी, इसलिए उन्होंने कांग्रेस के पक्ष में नारे लगाए.

देर रात देवी सिंह धुर्वे मुख्यमंत्री चौहान के भोपाल स्थित आवास पर देखे गए. सीएम ने उनके कांग्रेस में शामिल होने की बात को निराधार बताया. बाद में धुर्वे ने भी बयान जारी कर कहा कि वे भाजपा का समर्पित कार्यकर्ता हैं और भाजपा में ही रहेंगे. सीएम के ऑफिस ने भी धुर्वे की मुख्यमंत्री के साथ फोटो शेयर कर कांग्रेस के दावे को खारिज किया.

सीएम चौहान ने नवनिर्वाचित जनपद पंचायत अध्यक्षों और उपाध्यक्षों को बधाई देते हुए कहा कि भाजपा का लक्ष्य भारत को 'आत्मनिर्भर' बनाने का है. इसके लिए ब्लॉक और गांवों को आत्मनिर्भर बनाना है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में भाजपा सरकार ने गांवों में बहुत सारे विकास कार्य किए हैं. लेकिन अब वह सड़कों, जल निकासी, आंगनवाड़ी (बाल देखभाल केंद्र), स्कूलों और बाजारों सहित अन्य योजनाओं ध्यान केंद्रित करेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें