scorecardresearch
 

बिरसा मुंडा के नाम पर नेताओं ने बटोरे वोट, उनकी पड़पोती सब्जी बेचने को मजबूर

बिरसा मुंडा के नाम पर नेताओं ने बटोरे वोट, उनकी पड़पोती सब्जी बेचने को मजबूर

बिरसा मुंडा की 121वीं पुण्यतिथि पर पूरा झारखंड और आदिवासी समाज उन्हें याद कर रहा है. इस अवसर पर सीएम हेमंत सोरेन ने उन्हें अपनी श्रद्धांजलि दी. लेकिन सवाल ये है कि आज भी बिरसा मुंडा के वंशज एक सम्मान की जिंदगी के लिए तरस रहे हैं. बिरसा मुंडी की पड़पोती जौनी कुमारी मुंडा ने आजतक से बात करते हुए बताती हैं कि पढ़ाई का खर्च निकालने के लिए वो सब्जी बेचती हैं. देखें ये रिपोर्ट.

The entire Jharkhand and tribal society is remembering Birsa Munda on his 121st death anniversary. On this occasion, CM Hemant Soren paid his tribute to him. But the question is that even today the descendants of Birsa Munda yearn for a life of honor. Birsa Munda's granddaughter Jauni Kumari Munda, while talking to Aaj Tak, tells her that she sells vegetables to meet the expenses of her studies. Watch this report.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें