scorecardresearch
 

देवघर में श्रावण मेले पर झारखंड HC का निर्णय सुरक्षित, 3 जुलाई को आ सकता है फैसला

झारखंड हाई कोर्ट ने मंगलवार को श्रावणी मेले के आयोजन एवं देवघर में पूजा और दर्शन के लिए बाबा बैद्यनाथ मंदिर का पट खोलने को लेकर दाखिल याचिका पर सुनवाई करते हुए अपना फैसला तीन जुलाई तक के लिए सुरक्षित रख लिया है.

बैद्यनाथ मंदिर का पट खोलने को लेकर हाई कोर्ट में दाखिल की गई है याचिका (फाइल फोटो) बैद्यनाथ मंदिर का पट खोलने को लेकर हाई कोर्ट में दाखिल की गई है याचिका (फाइल फोटो)

  • बैद्यनाथ मंदिर का पट खोलने को लेकर याचिका
  • सावन में बैद्यनाथ मंदिर आते हैं 60 लाख कांवरिये

कोरोना संकट के बीच झारखंड हाई कोर्ट ने आज मंगलवार को देवघर के विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला जारी रखने पर अपना आदेश सुरक्षित रख लिया. इस संबंध में अब तीन जुलाई को फैसला सुनाए जाने की संभावना है.

झारखंड हाई कोर्ट ने मंगलवार को श्रावणी मेले के आयोजन एवं देवघर में पूजा और दर्शन के लिए बाबा बैद्यनाथ मंदिर का पट खोलने को लेकर दाखिल याचिका पर सुनवाई करते हुए अपना फैसला तीन जुलाई तक के लिए सुरक्षित रख लिया है.

हाई कोर्ट ने हर साल सावन में देवघर में आयोजित होने वाले श्रावणी मेला के आयोजन को लेकर जनहित याचिका पर सुनवाई की. एक महीने चलने वाले आयोजन में लगभग 60 लाख कांवरिया बाबा बैद्यनाथ मंदिर में पूजा अर्चना और जलाभिषेक के लिए आते हैं, जबकि 40 लाख श्रद्धालु बाउस्कीनाथ मंदिर जाते हैं.

इसे भी पढ़ें --- पीएम मोदी बोले- दुनिया के देशों के मुकाबले भारत संभली हुई स्थिति में है

श्रावण महीने के दौरान बाबाधाम का महत्व बढ़ जाता है. इस अवधि के दौरान लाखों श्रद्धालु बाबा बैद्यनाथ मंदिर में इकट्ठा होते है, उनमें से ज्यादातर लोग सबसे पहले सुल्तानगंज जाते हैं, जो बाबाधाम से 105 किमी दूर है.

सुल्तानगंज में, गंगा उत्तर में बहती है और भक्त इस जगह से गंगा जल लेकर बाबाधाम की और पैदल आते हैं. भक्त बाबा बैधनाथ मंदिर तक 109 किलोमीटर की दूरी पर चलते हैं.

इसे भी पढ़ें --- बुल्गारिया के पीएम पर लगे जुर्माने की सुनाई कहानी, मोदी बोले- कोई भी नियमों से ऊपर नहीं

बाबाधाम पहुंचने पर, कांवरिया पहले शिवगंगा में खुद को शुद्ध करने के लिए डुबकी लगाते हैं और फिर बाबा बैद्यनाथ मंदिर में प्रवेश करते हैं, जहां ज्योतिर्लिंगम पर गंगा जल अर्पित करते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें