scorecardresearch
 

'झारखंड सरकार गिराने के लिए इरफान अंसारी असम CM से मिलाना चाहते थे, 10 करोड़ का था ऑफर', कांग्रेस MLA का दावा

कांग्रेस विधायकों के पास से भारी मात्रा में कैश बरामद होने के बाद अब उस पर शियासत शुरू हो गई है. कांग्रेस अब बीजेपी पर उनके विधायकों को तोड़ने के आरोप लगा रही है. उसका कहना है कि बीजेपी ने जो महाराष्ट्र और एमपी में किया, वही अब वह झारखंड में दोहराने की कोशिश कर रही है.

X
राजेश कच्छप, इरफान अंसारी, नमन बिक्सल कोंगारी (बाएं से) की कोर्ट में हुई पेशी (फाइल फोटो)
राजेश कच्छप, इरफान अंसारी, नमन बिक्सल कोंगारी (बाएं से) की कोर्ट में हुई पेशी (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कैश कांड में तीन विधायक समेत पांच लोग अरेस्ट
  • बेरमो कांग्रेस MLA जयमंगल सिंह ने लगाए आरोप

पश्चिम बंगाल में 30 जुलाई की रात झारखंड के तीन कांग्रेस विधायकों के पास से 50 लाख कैश बरामद होने के मामले में झारखंड कांग्रेस के ही एक विधायक ने गिरफ्तार नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए हैं. झारखंड में बेरमो निर्वाचन क्षेत्र के कांग्रेस विधायक कुमार जयमंगल सिंह ने तीनों विधायकों के खिलाफ शिकायत पत्र लिखते हुए दावा किया कि राजेश कच्छप और इरफान अंसारी ने मुझे कोलकाता बुलाया था और यहां से वे मुझे असम सीएम हिमंत बिस्वा सरमा से मिलाने के लिए गुवाहाटी ले जाने वाले थे.

कांग्रेस के कुमार जयमंगल सिंह द्वारा लिखे गए पत्र के अनुसार बिस्वा ने कथित तौर पर झारखंड सरकार गिराने के बाद बनने वाली नई सरकार में हर विधायक को मंत्री पद और हर विधायक को 10 करोड़ रुपये का आश्वासन दिया था.

हमारे पास असम सीएम की फोन रिकॉर्डिंग

इससे पहले झारखंड कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे ने कहा कि हमारी गठबंधन सरकार गिराने के लिए चलाया गया 'ऑपरेशन लोटस' असफल हो गया है. कांग्रेस नेता ने आजतक से बात करते हुए इस पूरे घटनाक्रम के लिए असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा को दोषी ठहराया है. 

अविनाश पांडे ने कहा कि असम के मुख्यमंत्री ने बीते कई दिनों तक दिल्ली में डेरा डाला हुआ था. उन्होंने हमारे किस-किस विधायक से बात की, इसकी फोन रिकॉर्डिंग समेत सभी रिकॉर्ड हमारे पास हैं. समय आने पर इसको सबके सामने लाया जाएगा. 

बेरमो निर्वाचन क्षेत्र के कांग्रेस विधायक कुमार जयमंगल सिंह ने लगाए गंभीर आरोप

बेनकाब हो गया ऑपरेशन लोटस:  जयराम रमेश

कांग्रेस के राष्ट्रीय संचार प्रभारी जयराम रमेश ने कहा कि बीजेपी का "ऑपरेशन लोटस" बेनकाब हो गया. जयराम रमेश ने ट्वीट किया, "झारखंड में भाजपा का 'ऑपरेशन लोटस' आज की रात हावड़ा में बेनकाब हो गया. दिल्ली में 'हम दो' का गेम प्लान झारखंड में वही करने का है, जो उन्होंने महाराष्ट्र में एकनाथ-देवेंद्र (E-D) की जोड़ी से करवाया." 

गैर बीजेपीशासित राज्यों में सरकार गिराने की साजिश

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने इस मामले में बीजेपी पर आरोप लगाया कि वह पूरे देश में गैर भाजपा शासित प्रदेशों में सरकार गिराने की साजिश में शामिल है. इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस विधायकों की हरकत को भी निंदनीय बताया है.

कैशकांड पर जवाब दे कंग्रेस आलाकमान: बीजेपी

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद दीपक प्रकाश ने सवाल पूछा कि जब पैसे कांग्रेस विधायकों के पास से पकड़े गए हैं, तो इसका जवाब कांग्रेस के केंद्रीय और राज्य नेतृत्व को देना चाहिए या फिर बीजेपी को. बंगाल के लिए भी बीजेपी जिम्मेवार है क्या? सबने देखा पार्थ चटर्जी और अर्पिता की कहानी. बीजेपी किसी साजिश में शामिल नहीं है. पार्टी को बदनाम करने की कोशिश को जा रही है.

वहीं निशिकांत दुबे ने आरोप लगाते हुए कहा कि ये पैसे टेंडर मैनेज करने के लिए उगाही की गई थी. जेएमएम ही कांग्रेस को तोड़ना चाहती है.

तीनों MLA पार्टी से सस्पेंड, अरेस्ट किए गए 

कैश मिलने के बाद कांग्रेस ने सख्त एक्शन लेते हुए 3 विधायकों को पार्टी से सस्पेंड कर दिया है. वहीं पुलिस ने पूछताछ के बाद तीनों विधायक राजेश कच्छप, नमन विक्सेल कोंगारी और इरफान अंसारी, एक ड्राइवर और एक सहायक को गिरफ्तार कर लिया है. इसके बाद रविवार को पुलिस ने पांचों लोगों को हावड़ा जिला अदालत ने पेश किया गया. फिलहाल पुलिस ने तीनों को 10 दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया है.

मशीन से हुई थी कैश की गिनती

पंचला थाना क्षेत्र के रानीहाटी के पास नेशनल हाइवे-16 पर एक एसयूवी में को पुलिस ने रोका था. इस कार में कांग्रेस के तीनों विधायक मौजूद थे. वहीं एसयूपी से भारी मात्रा में कैश भी बरामद किया गया था. कैश की गिनती के लिए मशीन मंगवाई गई थी, जिसके बाद पता चला था कि विधायकों के पास 50 लाख रुपया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें