scorecardresearch
 

J-K में नहीं थम रही टारगेट किलिंग, अनंतनाग में स्कूल कर्मचारी पर चलाई गोली, अस्पताल में भर्ती

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों ने एक स्कूल कर्मचारी को अपनी गोली का निशाना बनाया है. उस हमले में स्कूल कर्मचारी घायल हुआ और उसे अनंतनाग के ही एक अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया है. पिछले कुछ दिनों से लगातार आतंकी बाहरी नागरिकों पर हमला कर रहे हैं, कश्मीरी पंडितों को भी निशाने पर लिया जा रहा है.

X
आतंकियों ने किया बाहरी नागरिक पर हमला
आतंकियों ने किया बाहरी नागरिक पर हमला

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों ने एक स्कूल कर्मचारी को अपनी गोली का निशाना बनाया है. उस हमले में स्कूल कर्मचारी घायल हुआ और उसे अनंतनाग के ही एक अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया है. पिछले कुछ दिनों से लगातार आतंकी बाहरी नागरिकों पर हमला कर रहे हैं, कश्मीरी पंडितों को भी निशाने पर लिया जा रहा है.

जो जानकारी सामने आ रही है उसके मुताबिक गुरुवार को अनंतनाग में आतंकियों ने एक चौकीदार पर हमला किया है. वो स्कूल के बाहर ड्यूटी कर रहा था, जब आतंकियों ने गोली चला दी. हमले में चौकीदार घायल हुआ और GMC अस्पताल में उसका इलाज जारी है. इससे पहले भी घाटी में कई मौकों पर इस प्रकार के हमले हुए हैं. अनंतनाग में तो बुधवार को ही एक बड़ा एनकाउंटर हुआ था, जिसमें तीन आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया गया.

असल में सेना को जानकारी मिली थी कि बिजबिहाड़ा इलाके में कुछ आतंकी छिपे हुए हैं. उस इनपुट के आधार पर सेना ने उस इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया और आतंकियों को पकड़ने का प्रयास किया. लेकिन बौखलाहट में उन आतंकियों ने सेना पर ही फायरिंग शुरू कर दी जिसके बाद जवाबी कार्रवाई हुई और तीन दहशतगर्द मारे गए. लेकिन सेना की से कार्रवाई से आतंकी की बौखलाहट और ज्यादा बढ़ गई है. उनकी तरफ से बाहरी मजदूर, कश्मीरी पंडितों पर हमला किया जा रहा है.

इस टारगेट किलिंग पर पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला ने बड़ा बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि अगर मामले में तुरंत कुछ नहीं किया गया तो आने वाले दिनों में कश्मीरी 100% हिंदू रहित हो सकता है. कश्मीरी पंडितों के लिए 1990 जैसे हालात लौट आए हैं. मैं हत्याओं के लिए जिम्मेदार नहीं हूं. मैंने कोई आतंकवाद समर्थक बयान नहीं दिया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें