scorecardresearch
 

कश्मीर में बदलाव से बौखलाए आतंकी नेताओं को निशाना बना रहे: रवींद्र रैना

उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के नेताओं को कश्मीर घाटी में निशाना बनाया जा रहा है. आतंकी हताश है. घाटी में हालात बदल रहे हैं. कश्मीर घाटी में बीजेपी की वृद्धि से राष्ट्रविरोधी ताकतें बौखला गई हैं.

रवींद्र रैना (फाइल फोटो- पीटीआई) रवींद्र रैना (फाइल फोटो- पीटीआई)

  • जम्मू कश्मीर में फिर से राजनीतिक गतिविधि चाहते हैं: रवींद्र रैना
  • हमारी पार्टी के नेताओं को निशाना बनाया जा रहा है: रवींद्र रैना

जम्मू कश्मीर में लगातार बीजेपी नेताओं को आतंकी निशाना बना रहे हैं. इस पर जम्मू कश्मीर बीजेपी अध्यक्ष रवींद्र रैना ने कहा है कि घाटी में हालात बदल रहे हैं, इसलिए आतंकी हताश हैं. वहीं शाह फैसल को लेकर रैना ने कहा कि उनकी फिर से नियुक्ति पर विचार किया जा सकता है.

आईएएस परीक्षा में टॉप करने वाले शाह फैसल अब राजनीति छोड़ फिर से सरकारी सेवा में लौट सकते हैं. इस पर जम्मू कश्मीर बीजेपी अध्यक्ष रवींद्र रैना का कहना है कि अगर शाह फैसल भारत के प्रति अपनी निष्ठा दिखाते हैं और अपने देश विरोधी ट्वीट के लिए माफी मांगते हैं तो आईएएस अधिकारी के रूप में उनकी फिर से नियुक्ति पर विचार किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें: J-K: आतंकी हमले का खौफ, अब तक बीजेपी के 40 नेता दे चुके हैं इस्तीफा

जम्मू कश्मीर के बीजेपी अध्यक्ष रवींद्र रैना ने कहा कि हम जम्मू कश्मीर में फिर से राजनीतिक गतिविधि चाहते हैं. यह एलजी पर है कि वह राजनीतिक सलाहकार परिषद का गठन करते हैं या राजनीतिक सलाहकार नियुक्त करते हैं. मैं खुद अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलने के लिए जल्द ही दिल्ली जा रहा हूं.

यह भी पढ़ें: शाह फैसल ने छोड़ी राजनीति, बोले- मुझे देशद्रोही नहीं कहा जा सकता

इसके अलावा उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के नेताओं को कश्मीर घाटी में निशाना बनाया जा रहा है. आतंकी हताश है. घाटी में हालात बदल रहे हैं. कश्मीर घाटी में बीजेपी की वृद्धि से राष्ट्रविरोधी ताकतें बौखला गई हैं. इसलिए वे हमारे कार्यकर्ताओं को निशाना बना रहे हैं.

आतंकियों को खत्म कर देंगे

रैना ने कहा कि आतंकियों के लिए कोई पुनर्वास नीति नहीं होगी. हम सभी आतंकियों को खत्म कर देंगे. जम्मू-कश्मीर के लोग स्वतंत्रता दिवस को बहुत खुशी और देशभक्ति के साथ मनाएंगे. लोग तिरंगा फहराएंगे. केवल हमारा तिरंगा फहरेगा. जम्मू और कश्मीर का अलग झंडा अब एक इतिहास है. हमने डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के सपने को पूरा किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें