scorecardresearch
 

J-K: आर्टिकल 370 हटने की वर्षगांठ से पहले पुलवामा में आतंकी हमला, बिहार के मजदूर की मौत

जम्मू-कश्मीर से संविधान के अनुच्छेद- 370 हटने की वर्षगांठ से पहले पुलवामा में आतंकियों ने एक हमला किया है. आतंकियों ने गैर-कश्मीरी मजदूरों पर ग्रेनेड फेंक कर हमला किया. इस घटना में एक श्रमिक की मौत हो गई है. जबकि 2 लोग घायल हो गए हैं. सुरक्षा बलों ने इस पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी है.

X
पुलवामा में आतंकी हमला (Photo: ANI)
पुलवामा में आतंकी हमला (Photo: ANI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पुलवामा के गदूरा इलाके में हुआ हमला
  • घायलों की हालत स्थिर, सभी बिहार से

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने एक हमले को अंजाम दिया है. जम्मू-कश्मीर से संविधान के अनुच्छेद- 370 हटने की वर्षगांठ से ठीक पहले आतंकियां ने यहां काम करने वाले गैर-कश्मीरी मजदूरों पर ये हमला किया. आतंकियों ने पुलवामा के गदूरा इलाके में मजदूरों को ग्रेनेड फेंका और इस घटना में एक श्रमिक की मौत हो गई है. जबकि 2 लोग घायल हुए हैं. सुरक्षा बलों ने इस पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी है. 

अब तक सामने आई जानकारी के मुताबिक इस घटना में जिस मजदूर की मौत हुई है, वो बिहार का रहने वाला मुस्लिम व्यक्ति है. घायलों को स्थानीय सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है. कल 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाने की चौथी सालगिरह है. केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने साल 2019 में 5 अगस्त के दिन ही जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद-370 को हटा दिया था.

मरने वाले श्रमिक की पहचान मोहम्मद मुमताज के तौर पर की गई है. वह बिहार के साकवा पारसा का निवासी था. जम्मू-कश्मीर पुलिस का कहना है कि दोनों घायल भी बिहार के ही रहने वाले हैं. इनके नाम मोहम्मद आरिफ और मोहम्मद मजबूल हैं और ये दोनों ही बिहार के रामपुर से हैं. पुलिस का कहना है कि दोनों की हालत स्थिर बनी हुई है.

इससे पहले गुरुवार को दिन में आजतक ने पाकिस्तान में बनाए गए एक 'टूल किट' को एक्सपोज किया था. पाकिस्तान ने ये टूल किट भारत के खिलाफ झूठ फैलाने के लिए तैयार की थी. इसमें 5 अगस्त को कश्मीर के मसले पर दुनियाभर में भारत को बदनाम करने के लिए पाकिस्तान ने बड़ी साजिश रची थी. पाकिस्तानी एजेंसियां अलग-अलग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए भारत सरकार के जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने का विरोध करने में जुटी हैं. इसकी आड़ में वह भारत को बदनाम करने की साजिश में लगी हुई हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें