scorecardresearch
 

श्रीनगर में पुलिस-सुरक्षाबलों पर पेट्रोल बम फेंकने वाला मॉड्यूल ध्वस्त, 5 गिरफ्तार

मॉडयूल से जुड़ा सबसे चौंकाने वाला तथ्य है कि ये क्लास 3 में पढ़ने वाले एक बच्चे का इस्तेमाल पुलिस और सुरक्षाबलों के वाहनों के मूवमेंट को जानने के लिए किया करता था. इसके बाद उन वाहनों पर पेट्रोल बम फेंके जाते थे.

पेट्रोल बम फेंकने के आरोपी गिरफ्तार (प्रतीकात्मक तस्वीर) पेट्रोल बम फेंकने के आरोपी गिरफ्तार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

  • क्लास 3 में पढ़ने वाले बच्चे से लेते थे वाहनों के मूवमेंट की जानकारी
  • श्रीनगर के डाउनटाउन में लोगों को दुकानें बंद रखने का डालते थे दबाव

श्रीनगर पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार किया है. इन पर पुलिस और सुरक्षा बलों पर पेट्रोल बम फेंकने के अलावा श्रीनगर के डाउनटाउन इलाके में लोगों को धमकाने का आरोप है. पुलिस को गड़बड़ी फैलाने वाले इन खुराफाती तत्वों की कई महीनों से तलाश थी. श्रीनगर में एमआर गंज, ऊर्दू बाज़ार और बनामोहल्ला पुलिस स्टेशनों की टीमों ने साझा अभियान में इस मॉड्यूल को पकड़ने में कामयाबी हासिल की.

ये मॉड्यूल पुलिस और सुरक्षाबलों के वाहनों पर पेट्रोल बम फेंकने की घटनाओं में शामिल था. इस साल 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 और 35-A के प्रावधान खत्म किए जाने के बाद से ये मॉड्यूल जहां दुकानों और व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रखने के लिए लोगों को धमकाता था, वहीं सड़कों पर वाहन नहीं लाने के लिए भी दबाव डालता था.

इस मॉड्यूल को सराफकदल, बोहरीकदल, राजौरीकदल, खानयार के साथ ही नौहट्टा में पुलिस और सुरक्षाबलों पर पेट्रोल बम फेंकने के लिए ज़िम्मेदार माना जाता है. मॉडयूल से जुड़ा सबसे चौंकाने वाला तथ्य है कि ये क्लास 3 में पढ़ने वाले एक बच्चे का इस्तेमाल पुलिस और सुरक्षाबलों के वाहनों के मूवमेंट को जानने के लिए किया करता था. इसके बाद उन वाहनों पर पेट्रोल बम फेंके जाते.

अधिकारियों को उम्मीद है कि इस मॉड्यूल के गिरफ्त में आने से शहर के डाउनटाउन में सामान्य स्थिति की बहाली में मदद मिलेगी. साथ ही आने वाले दिनों में और खुराफ़ाती तत्वों की गिरफ्तारी की जा सकेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें