scorecardresearch
 

हिमाचल विधानसभा के गेट पर खालिस्तानी झंडे लगाने के मामले में एक आरोपी गिरफ्तार

8 मई की सुबह हिमाचल प्रदेश के विधानसभा परिसर से कुछ तस्वीरें सामने आई थीं, जिसमें बिल्डिंग के मेन गेट पर खालिस्तानी झंडे बंधे हुए थे, वहीं, बाहर की दीवारों पर नारे लिखे हुए थे.

X
8 मई को हिमाचल विधानसभा के गेट पर खालिस्तानी झंडे लगाए गए थे 8 मई को हिमाचल विधानसभा के गेट पर खालिस्तानी झंडे लगाए गए थे
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हिमाचल पुलिस ने पंजाब से किया गिरफ्तार
  • बाकी आरोपियों की तलाश में छापेमारी जारी

हिमाचल विधानसभा के गेट पर खालिस्तानी झंडे लगाने के मामले में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. हिमाचल प्रदेश पुलिस ने पंजाब से एक गिरफ्तारी की है. बाकी अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है.  

बता दें कि 8 मई की सुबह हिमाचल प्रदेश के विधानसभा परिसर से कुछ तस्वीरें सामने आई थीं, जिसमें बिल्डिंग के मेन गेट पर खालिस्तानी झंडे बंधे हुए थे, वहीं, बाहर की दीवारों पर नारे लिखे हुए थे. इस घटना के बाद अलर्ट जारी किया गया और एसआईटी की जांच बिठाने की घोषणा की गई थी.

इस मामले में प्रतिबंधित खालिस्तानी संगठन सिख फॉर जस्टिस के चीफ गुरपतवंत सिंह पन्नून (Gurpatwant Singh Pannun) के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. उसके खिलाफ UAPA के तहत केस दर्ज हुआ है. साथ ही रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया गया है. पन्नून ने इससे पहले शिमला में 29 अप्रैल को खालिस्तानी झंडा फहराने का ऐलान किया था. 

गौलतलब है कि हिमाचल प्रदेश में इस साल के आखिरी में विधानसभा चुनाव होने हैं. इससे पहले लगातार बढ़ती खालिस्तानी वारदातों के मद्देनजर हिमाचल पुलिस ने अलर्ट जारी कर चौकसी बरतने को कहा है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें