scorecardresearch
 

जानलेवा हुआ एडवेंचर, पैराग्लाइडिंग के दौरान हादसे में गई डॉक्टर की जान

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में पैराग्लाइडिंग के दौरान एक डॉक्टर की मौत हो गई. डॉक्टर चंद्रशेखर रेड्डी कुल्लू में अपने दोस्तों के साथ पैराग्लाइडिंग कर रहे थे. तभी पैराशूट के तार बीच आसमान में टूट गए और चंद्रशेखर रेड्डी पहाड़ों पर गिर गए. इसके बाद मौके पर ही उनकी मौत हो गई.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में पैराग्लाइडिंग के दौरान एक डॉक्टर की मौत हो गई. हैदराबाद के रहने वाले चंद्रशेखर रेड्डी नाम के डॉक्टर अपने दोस्तों के साथ छुट्टियां मनाने हिमाचल प्रदेश गए थे. चंद्रशेखर रेड्डी कुल्लू में अपने दोस्तों के साथ पैराग्लाइडिंग कर रहे थे. तभी पैराशूट के तार बीच आसमान में टूट गए और चंद्रशेखर रेड्डी पहाड़ों पर गिर गए. यहां मौके पर ही उनकी मौत हो गई. चंद्रशेखर रेड्डी के दोस्तों ने घटना की सूचना उनके परिवारवालों को दे दी है. पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है.

एसपी गौरव सिंह ने पीटीआई को बताया, घटना मनाली के शनांग इलाके की है. इस घटना में दो लोग घायल हो गए थे. घायलों को हम अस्पताल लेकर गए जहां डॉक्टरों ने दो में से एक को मृत घोषित कर दिया. इस हादसे में घायल की पहचान 27 वर्षीय जोगिंदर के रूप में की गई है. वह यूपी के लखीमपुर का रहने वाला था. चंद्रशेखर हैदराबाद के श्रीकर अस्पताल में कार्यरत था. जानकारी के मुताबिक, डॉक्टर के परिजन केंद्रीय मंत्री किशन रेड्डी से मुलाकात करेंगे. इस मामले में पैरग्लाइडिंग पायलट और मालिक के खिलाफ IPC की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है.

सैलानियों के बीच हिमाचल प्रदेश का मनाली काफी लोकप्रिय है. लोग यहां अक्सर पैराग्लाइडिंग करने आते हैं, लेकिन कई बार ऐसे बड़े हादसे होते-होते बचे हैं. ऐसे में एक डॉक्टर की मौत से प्रशासन पर भी सवाल खड़े होते हैं. इसके अलावा गर्मियों की छुट्टी में कई बच्चे भी अपने माता-पिता के साथ पैराग्लाइडिंग करने यहां पहुंचते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें