scorecardresearch
 

गोवा पुलिस ने गुरुग्राम में सोनाली फोगाट के फ्लैट की 5 घंटे तक तलाशी ली, देखिए क्या सामान सीज किए गए

टिकटॉक स्टार सोनाली फोगाट की मौत मामले में परिवार लगातार सीबीआई जांच की मांग कर रहा है. अब सोनाली फोगाट के भतीजे विकास सिंघमार ने कहा है कि गोवा पुलिस इस मामले में उचित जांच नहीं कर रही है. मुझे लगता है कि इसके पीछे राजनीतिक प्रभाव भी है, इसलिए अब हम सीबीआई जांच की मांग को लेकर गोवा हाईकोर्ट का रुख करेंगे. सोनाली के परिवार के वकील ने भी CJI यूयू ललित को पत्र लिखकर केस को CBI को ट्रांसफर करने की मांग की है. 

X
गुरुग्राम की ग्रीन सोसायटी में सुधीर के साथ किराए के फ्लैट में रही थी सोनाली
1:24
गुरुग्राम की ग्रीन सोसायटी में सुधीर के साथ किराए के फ्लैट में रही थी सोनाली

सोनाली फोगाट की मौत के मामले में जांच के लिए गोवा पुलिस हिसार, रोहतक के बाद रविवार को गुरुग्राम की ग्रीन सोसायटी में उनके फ्लैट नंबर 901 पहुंची. पुलिस ने करीब 5 घंटे तक उनके फ्लैट की तलाशी ली. 

गोवा पुलिस के इंस्पेक्टर ने आज तक/इंडिया टुडे को बताया कि फ्लैट की तलाशी ली गई है. फ्लैट से सोनाली का पासपोर्ट, जूलरी समेत कुछ सामान मिला है, जिसे सीज कर दिया गया है. इन सामानों को एग्जामिन किया जाएगा. उनकी कार की भी छानबीन की गई. हमारी तहकीकात अभी जारी है.

जांच के दौरान गोवा पुलिस के साथ गुरुग्राम पुलिस और सोनाली के दो भाई, जीजा और कई रिश्तेदार मौजूद थे. गुरुग्राम के सेक्टर 102 की ग्रीन सोसायटी है. 23 अगस्त को सोनाली की गोवा के कर्लीज रेस्तरां में मौत हो गई थी. 

गोवा पुलिस की दो सदस्यीय टीम जांच करने पहुंची

फ्लैट में सोनाली के साथ सुधीर भी रहता था

जानकारी के मुताबिक सोनाली के साथ आरोपी सुधीर भी इस फ्लैट में रहता था. सुधीर ने फ्लैट लेते वक्त यहां लोगों को सोनाली को अपनी पत्नी बताया था. गोवा पुलिस ने जब सुधीर से पूछताछ की थी तो उसने कबूला था कि फ्लैट किराए पर लेने के लिए उसने सोनाली को पत्नी बताया था.

जांच के नाम पर खानापूर्ति कर रही गोवा पुलिस 

परिवार के सदस्यों ने 4 दिन तक हिसार में की गई गोवा पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाए हैं. परिवार के सदस्यों के मुताबिक गोवा पुलिस जांच के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति कर रही है. उन्होंने कहा कि गोवा पुलिस 4 दिन के हॉलिडे पैकेज पर आई थी. सोनाली का परिवार सीबीआई जांच की मांग के लिए कोर्ट का दरवाजा भी खटखटा सकता है. 

रूम में जूलरी, पासपोर्ट के अलावा कई और सामान मिला

सोनाली फोगाट के भतीजे विकास सिंघमार ने कहा था कि गोवा पुलिस इस मामले में ठीक से जांच नहीं कर रही है. मुझे लगता है कि इसके पीछे राजनीतिक प्रभाव भी है, इसलिए हम सीबीआई (केंद्रीय जांच ब्यूरो) जांच की मांग को लेकर गोवा हाईकोर्ट का रुख करेंगे.

सोनाली के नाम पर वसूली करता था सुधीर

बीजेपी नेता और टिकटॉक स्टार केस में एक और खुलासा हुआ है. सोनाली का सहयोगी सुधीर सांगवान उनके नाम पर अवैध वसूली का नेटवर्क भी चला रहा था. उसने सोनाली और पुलिस के नाम पर कई लोगों को लाखों रुपये का चूना लगाया था. क्रिएटिव एग्रीटेक के नाम से फर्म बनाकर लोगों को कृषि लोन के नाम पर ठगा. कभी बैंक से सस्ता कर्ज देने तो कभी सब्सिडी के नाम पर ठगी की गई और जब लोग पैसे वापस मांगते थे तो पुलिस की धमकी देता था. 

कीमती घड़ी भी सीज, कार की तलाशी ली गई

पुलिस को मिलीं तीन डायरियां, लॉकर भी सीज

गोवा पुलिस टीम सोनाली फोगाट के संत नगर आवास का दो बार चक्कर काट चुकी है. पहले दिन सिर्फ डेढ़ घंटे छानबीन की लेकिन कोई सबूत नहीं उठाया. अगले दिन 4 घंटे पूछताछ और छानबीन के बाद तीन डायरियां उठाई और लॉकर सील किया. वहीं परिवार के सदस्यों के मुताबिक, इन डायरियों में सिर्फ सोनाली फोगाट के भाषण, पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं के फोन नंबर और कुछ खर्चों का लेखा-जोखा है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें