scorecardresearch
 

गुजरात: ऑटो के ऊपर छिपाकर तस्करी के लिए लाए थे शराब, पुलिस ने 5 को दबोचा

गुजरात के वलसाड में पुलिस ने शराब की तस्करी करने वाले 5 लोगों को हिरासत में लिया है, उनके पास से करीब डेढ़ लाख रुपये की शराब भी बरामद हुई है. शराब की तस्करी करने वाले ये लोग ऑटो के ऊपर शराब की बोतलों को रैग्जीन से ढंककर लेकर जा रहे थे, तभी पुलिस ने इन लोगों को पकड़ लिया और शराब जब्त कर ली.

X
पुलिस ने जब्त की शराब पुलिस ने जब्त की शराब

गुजरात के बोटाद और अहमदाबाद में हुए जहरीली शराब कांड के बाद राज्य पुलिस एक्शन मोड में है. राज्य में ऐसे कांड न हों इसको देखते हुए केंद्र शासित प्रदेश दमन एवं दीव से शराब की तस्करी के खिलाफ सख्त कदम उठाए जा रहे हैं. बुधवार को गुजरात पुलिस ने डेढ़ लाख रुपये से ज्यादा की शराब के साथ 5 लोगों को हिरासत में लिया है. 

शराब तस्करी करने वाले लोग नई-नई तरकीब निकालकर दमन से गुजरात में प्रवेश करते हैं, लेकिन पुलिस ने खुफिया सूचना से वलसाड से डूंगरी में पेट्रोलिंग करते हुए ऑटो रिक्शा के ऊपर रैग्जीन के नीचे रखी अवैध शराब को बरामद कर लिया. उसे ऊपर से कवर किया गया था. पुलिस के मुताबिक, बरामद की गई शराब की कीमत डेढ़ लाख रुपये से अधिक है. शराब की तस्करी करने वाले पांच लोगों को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है. पुलिस इन लोगों से पूछताछ कर रही है कि शराब कहां से लाए थे और कहां तस्करी करने वाले थे. 

फाइल फोटो

जहरीली शराब से 40 से ज्यादा की मौत

बता दें कि बीती 26 और 27 जुलाई को बोटाद और अहमदाबाद जिले में जहीरीली शराब पीने से करीब 40 लोगों की मौत हो गई थी. इसके अलावा कई लोगों की हालत गंभीर भी हुई थी, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. पुलिस ने 24 लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया था, जिन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने इस मामले में दावा किया था कि आरोपियों ने शराब नहीं, बल्कि उसके नाम पर सीधा केमिकल के पाउच बनाकर बेचे थे, जिन्हें पीकर लोगों की मौत हो गई थी. 

2016 में भी हुआ था शराब कांड 

इससे पहले साल 2016 में जहरीली शराब कांड हुआ था. उसमें करीबन 2 दर्जन से अधिक लोगों की जान चली गई थी. उस वक्त पुलिस और सरकार ने शराब में मेथनॉल केमिकल के प्रयोग किए जाने से हुई मौत का हवाला दिया था. 

 

(इनपुट- कौशिक जोशी) 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें