scorecardresearch
 

गुजरात में बरकरार रहेगी ढील, पूर्ण लॉकडाउन की चर्चा को CM ने बताया अफवाह

मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि जहां ढील दी गई है, उसमें किसी भी तरह की कटौती नहीं की जाएगी. उन्होंने इस तरह की चर्चा को पूरी तरह से अफवाह बताया.

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी (फाइल फोटोः PTI) गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी (फाइल फोटोः PTI)

  • सीएम विजय रुपाणी की अपील- अफवाहों से दूर रहें
  • सोशल मीडिया पर चल रही पूर्ण लॉकडाउन की चर्चा

कोरोना वायरस की बीमारी से सर्वाधिक प्रभावित पांच राज्यों की सूची में गुजरात भी है. कड़े लॉकडाउन, कंटेनमेंट जोन्स की सख्ती और तमाम अन्य प्रयासों के बावजूद प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की बढ़ती तादाद पर लगाम नहीं लग पा रही है. इस बीच लॉकडाउन 4.0 के खत्म होने का समय जैसे-जैसे करीब आता जा रहा है, लॉकडाउन 5.0 को लेकर चर्चा तेज हो गई है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

लॉकडाउन 5.0 में लोग चौथे चरण में मिली ढील वापस ले लिए जाने और फिर से शहरों में पूर्ण बंदी की अटकलें लगा रहे हैं. इस तरह की कई पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल भी हो रही है. इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि जहां ढील दी गई है, उसमें किसी भी तरह की कटौती नहीं की जाएगी.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

उन्होंने इस तरह की चर्चा को पूरी तरह से अफवाह बताया और लोगों से अफवाहों से दूर रहने की अपील की. गौरतलब है कि लॉकडाउन 4.0 के दौरान कंटेनमेंट जोन्स को छोड़कर अन्य इलाकों में काफी ढील दी गई थी. दुकानों को खोलने की इजाजत के साथ ही नगर निगम की सीमा के बाहर ग्रामीण इलाकों में स्थित औद्योगिक इकाइयों को कार्य शुरू करने की छूट दे दी गई थी.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

बता दें कि गुजरात में कोरोना से संक्रमण के अब तक 15562 मामले सामने आ चुके हैं. प्रदेश में कोरोना के कारण अब तक 960 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 7466 नए मामलों की पुष्टि हुई है. इसके साथ ही कोरोना के मरीजों की तादाद देश में 165799 तक पहुंच गई है. अब तक 71106 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि अब तक कुल 4706 लोगों की जान जा चुकी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें