scorecardresearch
 

18 साल से ऊपर की सभी महिलाओं को हर महीने देंगे 1000 भत्ता, गुजरात में अरविंद केजरीवाल ने एक और गारंटी की घोषणा की

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल आज अहमदाबाद के दौरे पर पहुंचे. वह पिछले दो हफ्ते में गुजरात में चार बार दौरा कर चुके हैं. मालूम हो कि गुजरात में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं. इसी के मद्देनजर केजरीवाल ने गुजरात में अपनी चुनावी तैयारी तेज कर दी है.

X
अरविंद केजरीवाल दो हफ्ते में चौथी बार गुजरात पहुंचे (फाइल फोटो)
अरविंद केजरीवाल दो हफ्ते में चौथी बार गुजरात पहुंचे (फाइल फोटो)

दिल्ली के सीएम और AAP संयोजक अरविंद केजरीवाल ने गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए अभी से पूरी ताकत झोंक दी है. उन्होंने बुधवार को गुजरात में एक और 'गारंटी' का एलान कर दिया. उन्होंने इस बार वादा किया कि अगर प्रदेश में उनकी सरकार आई तो 18 साल से ज्यादा उम्र की महिलाओं को हर महीने 1 हजार रुपये भत्ता दिया जाएगा. यह केजरीवाल की पांचवीं गारंटी है.

उन्होंने गारंटी की घोषणा करते हुए बीजेपी पर निशाना साधते हुए महिलों से कहा कि वो कहते हैं कि ये फ्री की रेवड़ी है लेकिन यह रेवड़ी नहीं आपका अधिकार है. ये आपका पैसा है, आपको मिलना चाहिए न कि स्विस बैंक जाना चाहिए.

मालूम हो कि एक दिन पहले आप के राष्ट्रीय संयुक्त महासचिव इसुदान गढ़वी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया था कि दिल्ली के सीएम एक दिवसीय दौरे पर अहमदाबाद आएंगे. यहां वह टाउन हॉल बैठक करेंगे. वह नई 'गारंटी' की घोषणा भी करेंगे, जो गुजरात के 2.5 करोड़ लोगों को सीधा लाभ पहुंचाएगी.

बीजेपी के शासन को उखाड़ फेंकना चाहते हैं लोग

गारंटी की घोषणा से पहले अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ महीने से मैं कई बार गुजरात आया. यहां के लोगों को खूब सम्मान हमें मिल रहा है. पहले लोग कहते थे कि गुजरात बीजेपी का गढ़ है, यहां कुछ नहीं हो सकता.

उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे हम लोगों से मिल रहे हैं. हमें पता चल रहा है कि लोग बीजेपी से कितना दुखी हैं, कितना डरे हुए हैं. अब लोगों ने बोलना शुरू किया है. लोग बीजेपी के 27 साल के शासन को उखाड़ फेंकना चाहते हैं. यहां के लोग अब गुजरात में नई तरह की राजनीति चाहते हैं. 

गुजरात में दिल्ली मॉडल लागू करने का वादा

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ महीने से हम गुजरात के लोगों से वादा कर रहे हैं कि अगर हम गुजरात में आए तो हम वही काम करेंगे, जो हमने दिल्ली में करके दिखाया है. हम वही चीज करेंगे, जो हम पंजाब में कर रहे हैं.

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि हम जनता के मुद्दों की बात कर रहे हैं लेकिन बीजेपी-कांग्रेस ऐसा नहीं करती. वो आते हैं और एक-दूसरे को गालियां देकर चले जाते हैं लेकिन जनता को कुछ नहीं मिलता. दोनों पार्टियों की सेटिंग है. हम जो वादा करते हैं, उसे पूरा करके दिखाते हैं.

इन चार गारंटी की भी कर चुके हैं घोषणा

पहली गारंटी: दिल्ली-पंजाब की तरह गुजरात में हमारी सरकार बनने के तीन महीने के भीतर बिजली फ्री कर देंगे. पुराने बिजली के बिल माफ कर देंगे और 24 घंटे बिजली देंगे.

दूसरी गारंटी: हम हर बच्चे के लिए पांच साल में रोजगार का इंतजाम करेंगे. साथ ही जब तक उन्हें रोजगार नहीं मिल जाता तब तक उन्हें हर महीने 3000 रुपये महीना बेरोजगारी भत्ता देंगे. इसके अलावा 10 लाख सरकारी नौकरी देंगे.

तीसरी गारंटी: हमने व्यापारियों से बात की तो उन्होंने बताया कि बीजेपी के लोग डराते हैं, धमकाते हैं. हमारे ऊपर रेड डालते हैं. सीएम ने कहा कि हम रेडराज बंद करेंगे. व्यापारियों को खुलकर व्यापार करने की छूट दी जाएगी.

चौथी गारंटी: आदिवासियों के लिए गारंटी की घोषणा की थी. इसमें पंचायत (अनुसूचित क्षेत्रों तक विस्तार) (पेसा) अधिनियम का कार्यान्वयन शामिल है. यह अधिनियनम ग्राम सभाओं को विशेष रूप से प्राकृतिक संसाधनों के प्रबंधन में विशेष अधिकार देता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें