scorecardresearch
 

सूरत: 26 एचआईवी पॉजिटिव छात्रों के चलते 225 बच्चों ने छोड़ा स्कूल

गुजरात के सूरत जिले में एक सरकारी स्कूल में 26 एचआईवी पॉजिटिव छात्रों ने एडमिशन लिया तो गांव के 200 से अधिक छात्रों ने स्कूल जाना छोड़ दिया.

X
आंबोली गांव का यह स्कूल पिछले साल भी चर्चा में आया था
आंबोली गांव का यह स्कूल पिछले साल भी चर्चा में आया था

गुजरात के सूरत जिले में एक सरकारी स्कूल में 26 एचआईवी पॉजिटिव छात्रों ने एडमिशन लिया तो गांव के 200 से अधिक छात्रों ने स्कूल जाना छोड़ दिया.

जिले का आंबोली गांव का यह स्कूल पिछले साल भी चर्चा में आया था जब यहां 26 एचआईवी पॉजिटिव छात्रों ने दाखि‍ला लिया. लेकिन तब से अब तक 225 बच्चे स्कूल छोड़कर जा चुके हैं.

एक हजार की आबादी वाले इस गांव में सालभर पहले तक करीबन ढाई सौ बच्चे स्कूल जाते थे लेकिन आज हालत यह है कि मुश्किल से 25 से 30 बच्चे ही यहां पढ़ने आते हैं.

सालभर से जारी है विवाद
दरअसल एक साल पहले सूरत की एक सामाजिक संस्था ने एचआईवी पॉजिटिव करीबन 26 छात्रों का इस स्कूल में एडमिशन दिलवाया था. उस वक्त भी इस स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के परिजनों ने हंगामा खड़ा किया था. यह विवाद आज भी जारी है. गांववालों के इस विरोध का प्रशासन पर कोई असर नहीं हुआ है. प्रशासन के इस रवैये को देखकर गांववालों अपने बच्चों को एचआईवी से बचाने के इरादे से इस स्कूल में भेजना बंद कर दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें