scorecardresearch
 

'Rule मत भूल भाई, Rule मत भूल...' दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल का रैप सॉन्ग वायरल

दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल संदीप कुमार ने रोड सेफ्टी के लिए एक रैप सॉन्ग बनाया है. जो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. संदीप पिछले 6 सालों से सड़क सुरक्षा के लिए काम कर रहे हैं. जिससे सड़क हादसे में किसी जान ना जाए. इस सॉन्ग में हेड कांस्टेबल संदीप ने अपने दो बच्चों और दो भतीजे को हेलमेट पहनाकर रैप सॉन्ग गया है. 

X
हेड कांस्टेबल संदीप कुमार (फोटो- आजतक)
हेड कांस्टेबल संदीप कुमार (फोटो- आजतक)

दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल संदीप कुमार ने रोड सेफ्टी के लिए एक रैप सॉन्ग बनाया है. जो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. संदीप हेलमेट मैन के नाम से मशहूर हैं और वो अपने रैप सॉन्ग के जरिए लोगों को ट्रैफिक रुल्स का पालन करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं. संदीप पिछले 6 सालों से सड़क सुरक्षा के लिए काम कर रहे हैं. ताकि सड़क हादसे में किसी जान ना जाए. इस सॉन्ग में हेड कांस्टेबल संदीप ने अपने दो बच्चों और दो भतीजे को हेलमेट पहनाकर रैप सॉन्ग गया है. 

दरअसल संदीप का एक बार दिल्ली के मोती नगर इलाके से बाइक से कहीं जा रहे थे. उस दौरान ट्रक ने पीछे से उनकी बाइक को जोर से टक्कर मार दी थी. जिसमें वो हेलमेट पहनने की वजह से वो बाल-बाल बच गए थे. एक ऐसे ही सड़क हादसे में उनकी पत्नी भी बच गईं थी. उसके बाद से संदीप ने फैसला किया कि वो ट्रैफिक रूल्स के लिए लोगों को जागरूक करेंगे, जिससे सड़क दुर्घटना कम हो. संदीप का कहना है कि सड़क हादसे में हेड इंजुरी की वजह से सबसे ज्यादा मौत होती हैं. इसलिए हर किसी को हेलमेट जरूर पहना चाहिए. 

इतना ही नहीं संदीप अबतक 1900 हेलमेट लोगों को बांट चुके हैं. वो अपने परिवार के किसी भी सदस्य के जन्मदिन के मौके पर लोगों को गिफ्ट में हेलमेट बांटते हैं. संदीप ने रक्षा बंधन पर पहली बार सुरक्षा बंधन पर बार मुहिम की शुरुआत की और उन महिलाओं को हेमलेट पहनाया था जो अपने भाइयों को राखी बांधने जा रही थीं. उन्हीं महिलाओं ने संदीप को हेलमेट भाई का नाम दिया था और तभी से संदीप हर किसी को रोड सेफ्टी का संदेश देने लगे. 

संदीप का कहना है हेलमेट बांटना उनकी प्राथमिकता नहीं है, बल्कि रोड सेफ्टी के लिए लोगों को जागरूक करना उनकी पहली  प्राथमिकता है. क्योंकि सड़क हादसों में लगातार इजाफ हो रहा है. संदीप को  मिनिस्ट्री ऑफ रोड ट्रांसपोर्ट ने 2018 में अवार्ड दिया था. इसके अलावा दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने भी संदीप के काम को सहराया था. संदीप 2003 बैच के हेड कांस्टेबल है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें