scorecardresearch
 

पूर्वांचल सेना ने हिन्दू धर्म को बचाने के लिए मकर संक्रान्ति पर बांटी तलवारें

तलवार बांटकर संक्रान्ति मनाने के सवाल पर लोगों का कहना था कि जिस तरह से तिल-गुड़ खाकर और पतंग उड़ाकर मकर संक्रान्ति मनाते हैं उसी तरह आज हम तलवार बांटकर इस पर्व को मना रहें है.

X
पूर्वांचल सेना का कार्यक्रम
पूर्वांचल सेना का कार्यक्रम

आज देशभर में मकर संक्रान्ति का पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है. देश के अलग-अलग राज्यों में आज पतंग उड़ा कर इस पर्व को मनाया गया. लेकिन दिल्ली के स्वरूप नगर में पूर्वांचल सेना के लोगों ने तलवार बांट कर मकर संक्रान्ति का पर्व मनाया. सेना ने पर्व पर करीब 40-50 तलवारें बांटी. शस्त्र पूजन का चलन आमतौर पर दशहरा पर रहता है लेकिन संक्रान्ति पर तलवार बांटना चौंकाने वाला है.

पूर्वांचल सेना के अध्यक्ष आदर्श शर्मा का कहना है की तलवार वितरण इसलिए कर रहे है क्योंकि हम हिन्दू धर्म को बचाना चाहते हैं. पूर्वांचल के लोगों को की एकता के लिए ऐसा आयोजन करने का फैसला किया गया है.  

तलवार बांटकर संक्रान्ति मनाने के सवाल पर लोगों का कहना था कि जिस तरह से तिल-गुड़ खाकर और पतंग उड़ाकर मकर संक्रान्ति मनाते हैं उसी तरह आज हम तलवार बांटकर इस पर्व को मना रहें है. इस दौरान पूर्वांचल के कुछ गायकों ने गाने भी गाए और बच्चों से लेकर बुजुर्ग यहाँ मौजूद थे.

कन्हैया पर रखा था इनाम

बतां दे कि पूर्वांचल सेना ने ही जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार के ख़िलाफ़ पोस्टर लगाए थे. जेएनयू में देश विरोधी नारे लगने के बाद सूना ने तत्कालीन अध्यक्ष आदर्श शर्मा ने कन्हैया को गोली मारने पर दस लाख रूपए का इनाम रखा था. आज भी कार्यक्रम के दौरान पूर्वांचल सेना के लोगों ने तलवार थाम कर देश को तोड़ने वाले लोगों को चेतावनी दी. साथ ही ये धमकी भी दी की अगर कोई देश तोड़ेगा तो ये तलवार उस पर चलेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें