scorecardresearch
 

निर्भया के गुनहगार मुकेश की फांसी पर डाली गई पुनर्विचार याचिका पर SC में सुनवाई आज

पुनर्विचार याचिका दोषी मुकेश की ओर से डाली गई है, जिसमें फांसी की सजा पर अंतरिम रोक लगाने की मांग की गई है. मामले की याचिका पर सुनवाई 3 जजों की बेंच करेगी, जिसमें चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस आर बानुमति, जस्टिस अशोक भूषण आदि शामिल हैं.

निर्भया केस निर्भया केस

सुप्रीम कोर्ट में आज निर्भया मामले को लेकर सुनवाई होगी. 2012 में हुए रेप केस के दोषियों में से एक व्यक्ति की ओर से मृत्युदंड पर पुनर्विचार याचिका डाली गई है.

पुर्नविचार याचिका दोषी मुकेश की ओर से डाली गई है, जिसमें फांसी की सजा पर अंतरिम रोक लगाने की मांग की गई है. मामले की याचिका पर सुनवाई 3 जजों की बेंच करेगी, जिसमें चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस आर बानुमति, जस्टिस अशोक भूषण आदि शामिल हैं.

गौरतलब है कि 5 मई को सुप्रीम कोर्ट ने निर्भया रेप केस के दोषी अक्षय कुमार, पवन गुप्ता, विनय शर्मा और मुकेश की फांसी की सजा को बरकरार रखा था.

आपको बता दें कि इस केस में दोषी मुकेश ने अपनी पुनर्विचार याचिका में दावा किया था कि शीर्ष अदालत ने इस मामले में सुनवाई के दौरान और बाद में अपील में उठाये गए उससे संबंधित कई बिन्दुओं पर विचार नहीं किया. शीर्ष अदालत ने पांच मई को इस मामले में पांच दोषियों की मौत की सजा बरकरार रखी थी.

बताते चलें कि दक्षिण दिल्ली में एक चलती बस में 16 दिसंबर, 2016 की रात में छह व्यक्तियों ने 23 वर्षीय युवती से गैंगरेप के बाद और उसे बुरी तरह जख्मी हालत में नग्नावस्थ में बस से बाहर फेंक दिया था. पीड़िता की 29 दिसंबर, 2012 को सिंगापुर के एक अस्पताल में मौत हो गई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें