scorecardresearch
 

Monkeypox in Delhi: दिल्ली में मंकीपॉक्स का एक और मरीज, 35 साल का शख्स संक्रमित

Monkeypox in India: दिल्ली में मंकीपॉक्स का एक और मरीज मिला है. 35 साल का यह शख्स नाइजीरिया का है लेकिन फिलहाल दिल्ली में रहता है. यह हाल में कहीं विदेश यात्रा पर भी नहीं गया था. दिल्ली में मंकीपॉक्स वायरस का यह दूसरा मामला है.

X
मंकीपॉक्स के भारत में अबतक कुल छह मामले सामने आए
मंकीपॉक्स के भारत में अबतक कुल छह मामले सामने आए
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली में मंकीपॉक्स का एक मरीज पहले भी मिल चुका है
  • भारत में मंकीपॉक्स के एक मरीज की मौत भी हो चुकी है

Monkeypox in India: राजधानी दिल्ली में मंकीपॉक्स का एक और मरीज मिला है. 35 साल का यह शख्स नाइजीरिया का है लेकिन फिलहाल दिल्ली में रहता है. यह हाल में कहीं विदेश यात्रा पर भी नहीं गया था. दिल्ली में मंकीपॉक्स वायरस का यह दूसरा मामला है. वहीं देश में इससे पहले मंकीपॉक्स के कुल 5 केसों की पुष्टि हुई है. इसमें से एक मरीज की मौत हो गई है.

मंकीपॉक्स वायरस अब राजस्थान में भी दस्तक देता दिख रहा है. यहां मंकीपॉक्स के दो संदिग्ध मरीज सामने आए हैं. इसमें पहला मरीज अजमेर और दूसरा भरतपुर का है. दोनों को जयपुर स्थित राजस्थान यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंस (RUHS) लाया गया है. फिलहाल मरीजों को आइसोलेशन में रखा गया है. उनके सैंपल को आगे जांच के लिए पुणे भेजा गया है.

मंकीपॉक्स एक मरीज की ले चुका है जान

मंकीपॉक्स की वजह से भारत में पहली मौत की पुष्टि भी आज हो गई है. केरल में जिस 22 साल के शख्स की मौत हुई थी, उसको लेकर पुष्टि हो गई है, कि उसने मंकीपॉक्स वायरस की वजह से जान गंवाई. यह शख्स UAE से लौटा था. शख्स की जान मंकीपॉक्स वायरस की वजह से गई है या नहीं, उसका पता लगाने के लिए सैंपल NIV पुणे भेजा गया था. वहां नतीजे पॉजिटिव आए हैं.

इस शख्स की मौत केरल के Thrissur में 30 जुलाई को हुई थी. मंकीपॉक्स को लेकर बढ़ती चिंता की वजह से केंद्र सरकार भी एक्शन में है. केंद्र ने एक टास्क फोर्स भी बना दी है. इसकी अध्यक्षता डॉक्टर वीके पॉल और स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण कर रहे हैं.

केरल में इससे अलग मंकीपॉक्स के तीन और मरीज मिल चुके हैं. उन तीनों में से एक पूरी तरह ठीक हो चुका है. बाकी की हालत में भी सुधार है. केरल में संक्रमित मिले चारों लोग मिडिल ईस्ट से होकर आए थे. वहीं दूसरी तरफ दिल्ली से जो मामला पहले सामने आया था वह कहीं विदेश नहीं गया था. वह बस संक्रमित पाए जाने से कुछ दिन पहले मनाली घूमकर आया था.

मंकीपॉक्स के अबतक दुनिया में 20 हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. यह 77 देशों तक फैल चुका है. इसकी वजह से अफ्रीकी देशों में 75 लोगों की मौत हो चुकी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें