scorecardresearch
 

दिल्लीः LG वीके सक्सेना ने CBI को सौंपी DTC बस घोटाले की जांच, AAP ने कहा- बसें खरीदी ही नहीं गईं

दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने DTC बस खरीद घोटाले की जांच CBI को सौंप दी है. उन्होंने ये फैसला मुख्य सचिव की रिपोर्ट के बाद लिया है. वहीं दिल्ली सरकार ने कहा कि टेंडर रद्द हो गए थे और बसी कभी खरीदी ही नहीं गईं. उपराज्यपाल पर खुद गंभीर भ्रष्टाचार के आरोप हैं. वह ध्यान भटकाने के लिए इस तरह की जांच के आदेश दे रहे हैं.

X
LG  वीके सक्सेना और अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)
LG वीके सक्सेना और अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

दिल्ली में आम आदमी पार्टी की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं. दरअसल, उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने DTC बस खरीद घोटाले की जांच CBI को सौंप दी है. मुख्य सचिव की रिपोर्ट के बाद LG ने ये फैसला लिया है. इससे पहले एलजी ने शराब घोटाले की जांच के भी आदेश दिए थे. अब उन्होने DTC की 1000 लो फ्लोर बसों की खरीद में भ्रष्टाचार की जांच CBI को सौंपी है. 

बस खरीद मामले में CBI जांच पर दिल्ली सरकार का बयान भी सामने आया है. दिल्ली सरकार ने कहा कि टेंडर रद्द हो गए थे और बसी कभी खरीदी ही नहीं गईं. साथ ही कहा कि दिल्ली को ज़्यादा पढ़े लिखे LG की ज़रूरत है. क्योंकि मौजूदा LG को पता ही नहीं है कि वो किस पर हस्ताक्षर कर रहे हैं. दिल्ली सरकार ने कहा कि उपराज्यपाल पर खुद गंभीर भ्रष्टाचार के आरोप हैं. वह ध्यान भटकाने के लिए इस तरह की जांच के आदेश दे रहे हैं. इस तरह की जांचों से अब तक कोई नतीजा नहीं निकला है. मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ निराधार शिकायत के बाद अब वह चौथे मंत्री की शिकायत कर रहे हैं. उपराज्यपाल पहले खुद के ऊपर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों का जवाब दें. 

AAP ने कहा कि उपराज्यपाल पर आरोप है कि खादी ग्राम उद्योग आयोग का अध्यक्ष रहते उन्होंने 1400 करोड़ रुपए का घोटाला किया था. इसी दौरान उन्होंने बिना टेंडर के अपनी बेटी को ठेका दिया था. AAP ने कहा कि जिन बसों की बात वह कर रहे हैं, उनकी अभी तक खरीद ही नहीं हुई है. टेंडर कैंसिल हो चुका है. दिल्ली को एक शिक्षित और ईमानदार उपराज्यपाल की जरूरत है.

LG के इस फैसले के बाद बीजेपी ने आम आदमी पार्टी पर हमला किया है. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने डीटीसी बस घोटाले की जांच CBI को सौंपे जाने के LG के फैसले का स्वागत किया. साथ ही कहा कि इससे आम आदमी पार्टी का एक और भ्रष्टाचारी चेहरा सामने आ गया है. डीटीसी बसों की खरीद के लिए टेंडर जारी किए  गए. उसके बाद नियमों का उल्लंघन किया. सीबीसी गाइडेंस का उल्लंघन किया. सब नियमों का उल्लंघन करके एक ऐसी कंपनी को कॉन्ट्रैक्ट दिया, जिस कंपनी ने उस कैटेगरी में बिड ही नहीं किया था. नेगोशिएशन करके उसे टेंडर अवॉर्ड किया गया. इसकी जांच हो रही है. इसमें यह साफ होगा कि इसमें आम आदमी पार्टी ने कितना बड़ा घोटाला किया है.

बीजेपी नेता ने की मंत्रियों को बर्खास्त करने की मांग

वहीं बीजेपी प्रवक्ता हरीश खुराना ने कहा कि अरविंद केजरीवाल सरकार का नया घोटाला. साथ ही कहा कि पहले हवाला कांड फिर शराब कांड फिर स्कूल कमरों का घोटाला और अब DTC बस घोटाला. ऐसा कोई विभाग नहीं, जहां भ्रष्टाचार नहीं हुआ हो. इसके साथ ही उन्होंने मंत्रियों को बर्खास्त करने की मांग की.

शहजाद बोले- क्या AAP देगी सवालों के जवाब

बीजेपी नेता शहजाद पूनावाला ने कहा कि हवाला घोटाले में सत्येंद्र जैन अभी जेल में बंद हैं, शराब घोटाले पर सरकार ने कोई जवाब नहीं दिया है. शिक्षा घोटाले में सीवीसी की रिपोर्ट आ गई है. अब बस घोटाला सामने आया है. उन्होंने पूछा कि क्या AAP किसी सवाल का जवाब देगी. इसी कड़ी में बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि दिल्ली के उपराज्यपाल ने जो जांच के आदेश दिए हैं उसमें बड़ा घोटाला हुआ है. डीटीसी की बसों की खरीद में सरकार ने घोटाला किया है. ये काम कंपनी को लाभ पहुंचाने के लिए किया गया.

ये भी देखें
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें