scorecardresearch
 

Delhi AQI Today: आनंद विहार में फिर बिगड़ा हवा का स्तर, जानें अपने इलाके का हाल

AQI Today: पिछले दिनों दिल्ली में हवा की रफ्तार में तेजी से स्थिति सुधरी थी. लेकिन एक बार फिर हालात बिगड़ते नजर आ रहे हैं. दिल्ली के कई इलाकों में आज प्रदूषण का स्तर बेहद खराब देखने को मिला. आइये जानते हैं देश की राजधानी दिल्ली के अलग-अलग इलाकों का हाल.

X
Delhi AQI (File Photo)
Delhi AQI (File Photo)

Delhi Pollution: दिल्ली का प्रदूषण न केवल देश में बल्कि दुनियाभर में बदनाम है. दिल्ली दुनिया की उन राजधानियों में शामिल होती रही है, जहां सबसे ज्यादा प्रदूषण दर्ज किया जाता है. हालांकि देश के और भी इलाके हैं जहां हवा में जहर का स्तर दिल्ली से कहीं ज्यादा है. वैसे ये परेशानी सर्दियों के मौसम में देखने को मिलती है.

पिछले दिनों हवा की रफ्तार में तेजी से यहां की स्थिति सुधरी थी. लेकिन एक बार फिर हालात बिगड़ते नजर आ रहे हैं. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के मुताबिक, दिल्ली के कई इलाकों में आज प्रदूषण का स्तर बेहद खराब देखने को मिला. यहां औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 262 दर्ज किया गया. आइये जानते हैं देश की राजधानी दिल्ली के अलग-अलग इलाकों का हाल.

दिल्ली के कई शहरों की हवा में सुधार

 दिल्ली के इलाके AQI श्रेणी
अलीपुर 293 खराब
शादीपुर 286 खराब
द्वारका NSIT 279 खराब
डीटीयू 274 खराब
आईटीओ 196 मध्यम
सिरी फोर्ट 246 खराब
मंदिर मार्ग 240 खराब
आर के पुरम 260 खराब
पंजाबी बाग 295 खराब
लोधी रोड 169 मध्यम
नॉर्थ कैंपस NA  
मथुरा रोड 210 खराब
पुसा 200 मध्यम
आईजीआई एयरपोर्ट 228 खराब
जेएलएन स्टेडियम 258 खराब
नेहरू नगर 298 खराब
द्वारका सेक्टर-8 277 खराब
पटपड़गंज 251 खराब
डॉ. करणी सिंग शूटिंग रेंज 225 खराब
अशोक विहार 273 खराब
जहांगीरपुरी 329 बहुत खराब
सोनिया विहार 274 खराब
रोहिणी 290 खराब
विवेक विहार 272 खराब
नजफगढ़ 211 खराब
मेजर ध्यानचंद स्टेडियम 246 खराब
नरेला 260 खराब
ओखला फेज-2 246 खराब
वजीरपुर 291 खराब
बवाना 271 खराब
अरबिंदो मार्ग 214 खराब
मुंडका 288 खराब
आनंद विहार 336 बहुत खराब
दिलशाद गार्डन 312 बहुत खराब
बुराड़ी 331 बहुत खराब

बता दें कि शून्य से 50 के बीच एक्यूआई को 'अच्छा', 51 से 100 के बीच को 'संतोषजनक', 101 से 200 को 'मध्यम', 201 से 300 को 'खराब', 301 से 400 को 'बहुत खराब' और 401 से 500 के बीच एक्यूआई को 'गंभीर' माना जाता है.

Anand Vihar AQI

दिल्ली में वायु प्रदूषण के मुख्य कारण

हवा के बहाव में कमी आना, दिवाली के अवसर पर बम- पटाखे फोड़ना, हरियाणा और पंजाब के किसानों द्वारा पराली जलना, वाहनों की संख्या में अत्यधिक वृद्धि आना, पेड़ों का अधिक मात्रा में कटाव, साथ ही ग्‍लोबल वार्मिंग बढ़ना आदि. दिल्ली में GRAP के दूसरे चरण के तहत प्रतिबंध लगे हुए हैं.

क्या है Graded Response Action Plan जिसे सरकार कर रही लागू

GRAP (Graded Response Action Plan) एक एक्शन प्लान है, जो EPCA (Environment Pollution Control Authority) द्वारा बनाया गया है, जो सर्दियों के मौसम में दिल्ली में प्रदूषण को रोकने के लिए लागू किया जाता है. इसमें अथॉरिटी हर वो संभव नीतिगत कदम उठा सकती है जो कि प्रदूषण को बढ़ने से रोके और प्रदूषण के वर्तमान स्तर को घटाए. 

स्टेज 2 पर लगती हैं ये पाबंदियां

हर दिन सड़कों की सफाई होगी. जबकि, हर दूसरे दिन पानी का छिड़काव किया जाएगा. होटल या रेस्टोरेंट में कोयले या तंदूर का इस्तेमाल नहीं होगा. अस्पतालों, रेल सर्विस, मेट्रो सर्विस जैसी जगहों को छोड़कर कहीं और डिजल जनरेटर का इस्तेमाल नहीं होगा. लोग पब्लिक ट्रांसपोर्ट का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करें, इसके लिए पार्किंग फीस बढ़ा दी जाएगी. इलेक्ट्रिक या CNG बसें और मेट्रो सर्विस के फेरे बढ़ाए जाएंगे.


आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें