scorecardresearch
 

दिल्ली: मदनपुर खादर में बवाल के बाद पुलिस का फ्लैग मार्च, AAP MLA अमानतुल्लाह खान हिरासत में

दिल्ली में बुलडोजर अभियान की शुरुआत जहांगीरपुरी से हुई थी. यहां हनुमान जयंती के दिन हुई हिंसा वाली जगह पर एमसीडी ने बुलडोजर चलाया था. हालांकि, इस कार्रवाई के खिलाफ कुछ लोग सुप्रीम कोर्ट भी पहुंचे थे. सुप्रीम कोर्ट ने एमसीडी की कार्रवाई पर रोक लगा दी थी.

X
एमसीडी की कार्रवाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते लोग एमसीडी की कार्रवाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते लोग
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बवाल के बाद पैरामिलिट्री फोर्स ने मोर्चा संभाल लिया है
  • बुधवार को द्वारका और लोधी रोड में चला था बुलडोजर

राजधानी दिल्ली के मदनपुर खादर में बवाल बढ़ गया है. अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई करने पहुंची MCD की टीम और सुरक्षाबलों पर स्थानीय लोगों ने पथराव कर दिया. लोगों को खदेड़ने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा. इस बीच वहां धरना दे रहे आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है.  

इससे पहले कंचन कुंज में तीन मंजिला इमारात एमसीडी ने ढहा दिया. इस कार्रवाई के बाद स्थानीय महिलाओं ने कहा कि पुलिस ने उनके साथ पहले मारपीट शुरू की थी. महिलाओं पर डंडे भांज रही थी. हम अपना घर छोड़कर कहां जाएं. पुलिस पब्लिक को कमजोर बना रही है. पुलिस हमारी सुरक्षा के लिए है या हमें मारने के लिए? फिलहाल वहां पुलिस और पैरामिलिट्री फोर्स ने मोर्चा संभाल लिया है और फ्लैग मार्च निकाला जा रहा है.

दरअसल, MCD की टीम मदनपुर खादर में अतिक्रमण हटाने के लिए पहुंची थी. यहां सुबह से ही एमसीडी की कार्रवाई का विरोध हो रहा था. स्थानीय लोग आप विधायक अमानतुल्लाह खान की मौजूदगी में एमसीडी की कार्रवाई के खिलाफ धरने पर भी बैठ गए थे. 

हालांकि, कुछ देर बाद MCD की टीम ने यहां के कंचनकुंज में कुछ इमारतों को भी गिराया था. इसके बाद भीड़ ने एमसीडी और पुलिस टीम पर पथराव शुरू कर दिया. वहीं, लोगों का कहना है कि पुलिस ने पहले पथराव शुरू किया. 

MCD  की कार्रवाई का विरोध कर रहे थे अमानतुल्लाह

इससे पहले अमानतुल्लाह ने कहा कि वे जेल जाने के लिए तैयार हैं, अगर इससे गरीबों के घर बच जाते हैं. उन्होंने कहा, इस इलाके में कोई अतिक्रमण नहीं है. मैं एमसीडी से कहा था कि आप आईए कुछ लोगों के साथ, अगर अतिक्रमण होगा, तो मैं खुद हटवाऊंगा. लेकिन पुलिस की मौजूदगी में गलत फायदा मत उठाइये. 

उत्तरी दिल्ली नगर निगम का बुलडोजर गुरुवार को पटेल नगर के प्रेम नगर में भी चला. यहां नगर निगम की टीम ने अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई की. 

पटेल नगर के प्रेम नगर में अतिक्रमण हटाता बुलडोजर

सीलमपुर में नहीं हो पाई कार्रवाई

इससे पहले बुधवार को द्वारका और लोधी रोड में एमसीडी ने अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाया. ये अभियान सीलमपुर में भी चलाया जाना था. हालांकि, पुलिसबल न मिल पाने की वजह से एमसीडी ने इसे टाल दिया था. 

मंगलवार को दिल्ली नगर निगम ने मंगोलपुरी और न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाया था. न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में करीब आधा दर्जन बंगलों में तोड़फोड़ की गई थी. इसके अलावा फुटपाथ भी साफ कराया गया था. मंगोलपुरी में अवैध दुकानों को तोड़ा गया था. 

शाहीनबाग में हुआ था बवाल

इससे पहले सोमवार को शाहीनबाग में अतिक्रमण हटाने को लेकर अभियान चलाया गया था. इसे लेकर काफी बवाल हुआ था. लोगों के विरोध प्रदर्शन के चलते एमसीडी टीम को वापस लौटना पड़ा था. शाहीनबाग में लोगों ने बीजेपी, केंद्र सरकार और SDMC के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. इतना ही नहीं लोगों ने कार्रवाई रोकने की भी मांग की. यहां तक कि कुछ महिलाएं बुलडोजर के सामने आकर भी खड़ी हो गई थीं.
 
दिल्ली पुलिस ने आप विधायक अमानतुल्लाह खान और उनके समर्थकों पर मामला दर्ज किया था. साउथ दिल्ली नगर निगम (SDMC) ने अमानतुल्लाह और उनके समर्थकों पर शाहीनबाग में अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई में बाधा डालने का आरोप लगाया था. 

जहांगीरपुरी से हुई थी बुलडोजर अभियान की शुरुआत

दिल्ली में बुलडोजर अभियान की शुरुआत जहांगीरपुरी से हुई थी. यहां हनुमान जयंती के दिन हुई हिंसा वाली जगह पर एमसीडी ने बुलडोजर चलाया था. हालांकि, इस कार्रवाई के खिलाफ कुछ लोग सुप्रीम कोर्ट भी पहुंचे थे. सुप्रीम कोर्ट ने एमसीडी की कार्रवाई पर रोक लगा दी थी. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें