scorecardresearch
 

कोरोना: केंद्र ने दिया राज्यों को फंड, केजरीवाल सरकार बोली- दिल्ली के लिए एक रुपया भी नहीं

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और वित्तमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि कोरोना से लड़ने के लिए अन्य राज्यों को आपातकालीन सहायता के रूप में 17,287 करोड़ रुपये दिए गए हैं. लेकिन दिल्ली को एक भी रुपया नहीं दिया गया है.

दिल्ली सरकार ने केंद्र सरकार पर भेदभाव का लगाया आरोप (फोटो- पीटीआई) दिल्ली सरकार ने केंद्र सरकार पर भेदभाव का लगाया आरोप (फोटो- पीटीआई)

  • सभी राज्यों को दी आपातकालीन सहायता
  • दिल्ली की केंद्र सरकार ने नहीं की मदद

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्र सरकार पर Covid-19 के खिलाफ लड़ाई में दिल्ली के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया है. उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा किसी तरह की सहायता राशि नहीं मिलने पर कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि केंद्र सरकार इस विपत्ति की घड़ी में दिल्ली की अनदेखी कर रही है.

उपमुख्यमंत्री और वित्तमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि कोरोना से लड़ने के लिए अन्य राज्यों को आपातकालीन सहायता के रूप में 17,287 करोड़ रुपये दिए गए हैं. लेकिन दिल्ली को एक भी रुपया नहीं दिया है.

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस के संकट से निपटने के लिए केंद्र से दिल्ली को लेकर भी आपदा फंड जारी करने की मांग की है. उन्होंने कहा कि कोविड-19 के मामले में दिल्ली तीसरा सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है. सिसोदिया ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को इस संबंध में एक पत्र भी लिखा है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

मनीष सिसोदिया ने पत्र में लिखा कि संकट की इस घड़ी में दिल्ली के लोगों को उचित और समान व्यवहार की उम्मीद है.

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, 'मैंने केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखकर दिल्ली के लिए भी आपदा फंड की मांग की है. केंद्र ने राज्यों को कोरोना से लड़ने के लिए, आपदा फंड से 17 हजार करोड़ जारी किए लेकिन दिल्ली को इसमें एक रुपया भी नहीं दिया. इस समय पूरे देश को एक होकर लड़ना चाहिए. इस तरह का भेदभाव दुर्भाग्यपूर्ण है.'

आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने भी मनीष सिसोदिया के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा कि केन्द्र की बीजेपी सरकार हमेशा से दिल्ली सरकार के प्रति दुर्भावना से काम करती है लेकिन ऐसे भीषण संकट के समय भी बीजेपी सरकार अपनी ओछी राजनीति नही छोड़ पाई यही है बीजेपी का 'सबका साथ, सबका विकास.'

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

दिल्ली में 59 और लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के साथ ही राजधानी में इस बीमारी के मामले बढ़कर 445 हो गए हैं. स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी. इन कुल मामलों में 301 ऐसे लोग हैं जो निजामुद्दीन स्थित जमात के मरकज में शामिल हुए थे. शुक्रवार रात को इस घातक वायरस के मामले 386 थे, जिनमें से छह मरीजों की मौत भी हो गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें