scorecardresearch
 

दिल्लीः कोरोना के कारण ट्रैफिक पुलिस की सलाह- डीएल, कागजात लेने न आएं कार्यालय

दिल्ली की ट्रैफिक पुलिस ने एडवाइजरी जारी की है. ट्रैफिक पुलिस ने एडवाइजरी जारी कर चालान के समय जब्त किए गए ड्राइविंग लाइसेंस या वाहन के कागजात लेने के लिए कार्यालय नहीं पहुंचने की सलाह दी है.

प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटोः PTI) प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटोः PTI)

  • ट्रैफिक चालान की रसीद दिखा जारी रखें ड्राइविंग
  • ट्रैफिक इंस्पेक्टरों को आदेश- फोन से दें सूचना

कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 230 पहुंच गए हैं. तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार जहां एक के बाद एक एहतियाती उपाय कर रही है, वहीं दूसरी तरफ पुलिस और प्रशासन भी सक्रिय हो गया है. अब दिल्ली की ट्रैफिक पुलिस ने एडवाइजरी जारी की है. ट्रैफिक पुलिस ने एडवाइजरी जारी कर चालान के समय जब्त किए गए ड्राइविंग लाइसेंस या वाहन के कागजात लेने के लिए कार्यालय नहीं पहुंचने की सलाह दी है.

ट्रैफिक पुलिस ने आम नागरिकों से कहा है कि ट्रैफिक चालान के समय जब्त किए गए अपने ड्राइविंग लाइसेंस या वाहन के कागजात लेने के लिए ट्रैफिक सर्कल या कार्यालय का दौरा न करें. यह भी सलाह दी गई है कि ट्रैफिक पुलिस की ओर से संबंधित कागजात मांगे जाने पर लोग चालान की प्रति दिखा सकते हैं. ऐसा कर ड्राइविंग जारी रखी जा सकती है. यह मान्य होगा.

यह भी पढ़ें- बेबी डॉल सिंगर कनिका कपूर को कोरोना, बिना जांच एयरपोर्ट से निकली थीं

दिल्ली की ट्रैफिक पुलिस ने कहा है कि लोग केवल तभी दस्तावेज पाने के लिए कार्यालय पहुंचें, जब उनके पास तत्काल इन्हें वापस पाने के पर्याप्त कारण हों. एडवाइजरी में कहा गया है कि ट्रैफिक इंस्पेक्टर उचित सावधानी के साथ ही दस्तावेज सौंपेंगे. ट्रैफिक इंस्पेक्टरों को भी निर्देश दिया गया है कि वे रिकॉर्ड में उपलब्ध सभी टेलीफोन नंबरों पर इसकी जानकारी उपलब्ध कराएं.

यह भी पढ़ें- सेल्फ आइसोलेशन में गए बीजेपी नेता वसुंधरा राजे और बेटे दुष्यंत

दिल्ली पुलिस की ओर से जारी यह एडवाइजरी 31 मार्च तक लागू रहेंगी. 1 अप्रैल को इसकी समीक्षा की जाएगी. गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस के अब तक 235 मामले सामने आए हैं. दिल्ली सरकार ने लोगों से बहुत ज्यादा जरूरी न होने पर घर से नहीं निकलने की अपील की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×