scorecardresearch
 

राजधानी में और डराने लगा कोरोना, देश में हर पांचवीं मौत और 10वां संक्रमित दिल्ली से

दिल्ली में सबसे ज्यादा फिक्र मौतों की ताबड़तोड़ तादाद को लेकर है. देश की 20 फीसदी मौतें अकेले दिल्ली में हो रही हैं. 21 नवंबर को कोरोना से दिल्ली में 111 लोगों की जान गई, जबकि देश में 501 लोगों की मौत हुई.

दिल्ली में कोरोना की दशहत फिर बढ़ गई है (फाइल फोटो) दिल्ली में कोरोना की दशहत फिर बढ़ गई है (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली में 21 नवंबर को 111 लोगों ने दम तोड़ा
  • 5879 नए लोग कोरोना की चपेट में आए
  • 39 हजार 741 कोरोना के एक्टिव मरीज हैं

कोरोना की वजह से हालात लगातार बिगड़ रहे हैं. दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर का कहर सबसे ज्यादा दिख रहा है जहां देश की कुल कोरोना मौतों का 20 फीसदी दर्ज हो रहा है. कुछ फैक्ट और नई रिपोर्ट भविष्य की भयावह परिस्थितियों का सायरन बजा रही है. बीते 6 दिनों से औसतन 100 से ज्यादा लोग दम तोड़ रहे हैं और राहत की कोई तस्वीर नजर नहीं आ रही है. 

दिल्ली में सबसे ज्यादा फिक्र मौतों की ताबड़तोड़ तादाद को लेकर है. देश की 20 फीसदी मौतें अकेले दिल्ली में हो रही हैं. 21 नवंबर को कोरोना से दिल्ली में 111 लोगों की जान गई, जबकि देश में 501 लोगों की मौत हुई. इस लिहाज से देश में कोरोना से हर पांचवीं मौत दिल्ली से हो रही है, जबकि हर दसवां मरीज दिल्ली से है. राजधानी में मौतों का आकंड़ा 8 हजार 270 हो चुका है. बीते 24 घंटे में 45 हजार से ज्यादा टेस्ट किए गए, जिनमें से 5879 की रिपोर्ट पॉजीटिव आ गई यानि हर 100 में से 13 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए. राजधानी में 39 हजार 741 कोरोना के एक्टिव मरीज हैं. 

दिल्ली में बीते 6 दिनों में कोरोना से मौतें 

21 नवंबर-111 
20 नवंबर- 118
19 नवंबर- 98
18 नवंबर-131 
17 नवंबर- 99
16 नवंबर-99

आईएलबीएस डायरेक्टर डॉक्टर एसके सरीन ने कहा कि मास्क पर 2000 रुपये का जुर्माना कोई जुर्माना नहीं है. ये साइंस को बताने का तरीका है, जिसे लोगों ने माना ही नहीं. प्रॉपर मास्क लगाना बहुत जरूरी है. खांसने, छींकने और जोर से हंसने से वायरस फैलता है, इसलिए मास्क लगाना बेहद जरूरी है.

जसलोक हॉस्पिटल के डॉक्टर राजेश पारिख ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि ये तीसरी लहर है. ये अभी पहली लहर है. दूसरी लहर या तीसरी लहर तभी कहेंगे जब पहली लहर में पूरी तरह केस आने बंद हो जाएंगे. रहा सवाल केस बढ़ने का तो फेस्टिव सीजन में हमें सावधानी रखनी चाहिए थी, जहां चूक हुई है. 

2000 रुपये का जुर्माना

दिल्ली में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने नियमों में सख्ती बढ़ा दी है. दिल्ली में कोरोना गाइडलाइंस की अनदेखी पर दो हजार रुपये का जुर्माना भरना होगा. बता दें कि पहले जुर्माने की रकम पांच सौ रुपये  थी. मास्क ना लगाना, क्वारनटीन नियमों का उल्लंघन करना, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ना करना और सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर अब 2 हजार रुपये का चालान होगा. 

देश में क्या हैं हालात

पिछले 24 घंटों में कोरोना के 45209 नए मामले दर्ज होने से संक्रमितों की कुल संख्या 90,95,806 हो गई है जबकि बीते 24 घंटे में 501 लोगों की मौत हुई है. देश में कोरोना की वजह से अब तक 133227 लोग जान गंवा चुके हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें