scorecardresearch
 

बिजनेसमैन को डील के बहाने दिल्ली बुलाकर किडनैप किया, मांगी 50 लाख की फिरौती

मामले की शिकायत तमिलनाडु में दर्ज हुई. तमिलनाडु पुलिस ने इस बात की जानकारी गुरुग्राम एसटीएफ को दी. इसके बाद हरकत में आई एसटीएफ ने कार्रवाई कर मास्टरमाइंड सहित 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

X
पुलिस की गिरफ्तार में अपहरण के सभी आरोपी.
पुलिस की गिरफ्तार में अपहरण के सभी आरोपी.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 5 आरोपियों को एसटीफ ने किया गिरफ्तार
  • पुलिस ने 13 घंटे में सुलझा ली अपहरण की गुत्थी

तमिलनाडु के व्यापारी को बिजनेस डील के लिए दिल्ली बुलाकर किडनैप करने का मामला सामने आया है. पुलिस ने 13 घंटे में आरोपियों को गिरफ्तार कर इस केस का खुलासा कर दिया है.

पुलिस के मुताबिक तमिलनाडु के टेक्सटाइल बिजनेसमैन एस विल्लापथ्थी अपने असिस्टेंट विनोद के साथ 7 जुलाई को दिल्ली के IGI एयरपोर्ट पर उतरे. यहां से उनका अपहरण कर उन्हें दिल्ली के जनकपुरी इलाके में बंधक बना लिया गया. अपहरण के बाद उनके परिवार से 50 लाख रुपए की फिरौती मांगी गई.

मामले की शिकायत तमिलनाडु में दर्ज हुई. तमिलनाडु पुलिस ने इस बात की जानकारी गुरुग्राम एसटीएफ को दी. इसके बाद हरकत में आई एसटीएफ ने कार्रवाई कर मास्टरमाइंड सहित 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. 

ऑपरेशन को नाम दिया 'सकुशल'

एसटीएफ चीफ सतीश बालन के मुताबिक जिरयानी और असलम ने खुलासा किया की श्रीकृष्णा टेक्सटाइल के मालिक केएस विल्लापथ्थी को बिजनेस डील के बहाने तमिलनाडु से दिल्ली बुलाया गया. यहां से उनका अपहरण किया गया. दरअसल, तमिनाडु पुलिस के चेक करने पर बिजनेसमैन की लोकेशन गुरुग्राम की तरफ मिल रही थी. इस आधार पर ही गुरुग्राम एसटीएफ ने ऑपरेशन 'सकुशल' को अंजाम दिया.

कमर में बांधी बम नुमा बैटरी

पूछताछ में अपहरणकर्ताओं ने खुलासा किया की उन्हें डर था की विल्लापथ्थी शोर न मचा दे. इसलिए उन्होंने उसके गाड़ी में बैठते ही कमर में बम नुमा बैटरी बांध दी और कहा कि शोर मचाया तो उसके शरीर के चीथड़े उड़ा जाएंगे. 

5 आरोपी पकड़ने बनाईं 3 टीम

एसटीएफ ने वारदात में शामिल जिरयानी बाबू, असलम, मोहम्मद आजाद, सोनू और आसिफ को गिरफ्तार कर इनकी क्राइम कुंडली को खंगालना शुरू कर दिया है. सभी 5 आरोपियों को गुरुग्राम पुलिस की 3 टीमों ने गिरफ्तार किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें