scorecardresearch
 

BIHAR: सौरभ कुमार की रातों-रात खुली किस्मत, ड्रीम-11 पर टीम बनाकर जीते एक करोड़ रुपये

किस्मत कब बदल जाए, कोई नहीं जानता. ऐसा ही हुआ है बिहार के आरा में रहने वाले सौरभ कुमार के साथ. रातों-रात उनकी किस्मत ऐसी बदली कि उनके ड्रीम-11 के वॉलेट अकाउंट में 70 लाख रुपए आ गए. दरअसल, सौरभ ने मंगलवार को भारत और ऑस्ट्रेलिया के मैच में दोनों टीमों के खिलाड़ियों को मिलाकर 11 खिलाड़ियों की अपनी टीम बनाई थी.

X
Dream11 Winner Saurabh Kumar
Dream11 Winner Saurabh Kumar

बिहार के आरा में एक युवक ने ऑनलाइन गेमिंग एप ड्रीम-11 से 1 करोड़ रुपये जीते हैं. इसके बाद से युवक को पूरे राज्य के लोग गेम चेंजर के नाम से जानने लगे हैं. आरा जिले के चरपोखरी प्रखंड के ठकुरी गांव के रहने वाले वेंकटेश सिंह के पुत्र सौरभ कुमार ड्रीम-11 के विजेता बने हैं.

वह पिछले साल से ही ड्रीम-11 पर टीम बनाकर जीतने की कोशिश कर रहे थे. मगर, सफलता हाथ नहीं लगी थी. इस बार मंगलवार की रात को उन्होंने ड्रीम-11 पर टीम बनाई और वह जीत गए.

इस जीत को लेकर 'बिहार तक' की टीम ने सौरभ से बातचीत की. उन्होंने बताया, "उनके साथ मंगलवार को पूरे देश से करीब 65 लाख खिलाड़ी ड्रीम-11 पर टीम बनाकर भाग्य आजमा रहे थे. मैंने ऑस्ट्रेलिया और भारत के मैच में दोनों टीमों के खिलाड़ियों को मिलाकर 11 खिलाड़ियों की अपनी टीम बनाई. 

इस टीम के कप्तान हार्दिक पांड्या थे, जिन्होंने 30 गेंद पर 71 रन की शानदार पारी खेली. हार्दिक पंड्या की पारी का फायदा भारतीय टीम को तो नहीं मिला, लेकिन मुझे इसका भरपूर फायदा मिला. सौरभ कहते हैं कि इस सफलता के पीछे मां और पिता का आशीर्वाद है.

उन्होंने आगे बताया, "कल देर रात ही ड्रीम-11 का वॉलेट अकाउंट चेक किया, तो खाते में 70 लाख रुपये जमा हो गए थे. एक करोड़ की इनामी राशि से 30 लाख रुपये टैक्स के काट लिए गए हैं. यह जानकारी मिलते ही परिवार में खुशी का माहौल हो गया है. एक करोड़ रुपए का पुरस्कार जीतने से बेहद खुश हूं."

गांव में ही बच्चों को पढ़ाते हैं सौरभ कुमार
सौरभ बीए प्रथम वर्ष के छात्र हैं. वह अपने गांव में ही ट्यूशन पढ़ाते है. उन्हें शुरू से ही क्रिकेट खेलना और देखना अच्छा लगता है. वह तीन भाइयों में दूसरे स्थान पर हैं. सौरभ का बड़ा भाई सागर भोजपुरी गायक है, जबकि छोटा भाई संगम पढ़ाई करता है.

सौरभ लगातार कई सालों से ड्रीम-11 पर भाग्य आजमा रहे थे. उनके पिता वेंकटेश सिंह ने कहा, "मुझे मालूम भी नहीं था कि बेटा ड्रीम-11 गेम खेल रहा है. कल अचानक पता चला कि वह एक करोड़ रुपये जीत गया है. उसके जीते हुए रुपये उसके आगे भविष्य के लिए काम आएंगे." 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें