scorecardresearch
 

मुंगेर: 3 माह पहले उजड़ गया सुहाग, अब बेटी जूझ रही कैंसर से, मां ने लगाई आर्थिक मदद की गुहार

मुंगेर में एक गरीब मां अपने 19 साल की कैंसर पीड़ित बेटी का इलाज नहीं करवा पा रही है. महीनों से जिले के सदर अस्पताल के बेड पर पड़ी लड़की की हालत दिन व दिन खराब होती जा रही है. कोई भी इस गरीब मां की मदद करने के लिए आगे नहीं आ रहा है.

आर्थिक तंगी के चलते एक मां अपनी बेटी का इलाज नहीं करवा पा रही है (फोटो आजतक) आर्थिक तंगी के चलते एक मां अपनी बेटी का इलाज नहीं करवा पा रही है (फोटो आजतक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कैंसर के इलाज के लिए नहीं हैं पैसे
  • गरीब मां को मदद की दरकार

मुंगेर से एक बेहद ही दर्दनाक खबर सामने आई है. जहां पर आर्थिक तंगी के चलते एक गरीब मां अपने 19 साल की कैंसर पीड़ित बेटी का इलाज नहीं करवा पा रही है. महीनों से जिले के सदर अस्पताल के बेड पर पड़ी लड़की की हालत दिन व दिन खराब होती जा रही है. कोई भी इस गरीब मां की मदद करने के लिए आगे नहीं आ रहा है. वहीं पीड़ित लड़की अपनी लड़खड़ाती जुबान से कहती है कि वो जीना चाहती है. अगर कोई मेरी मदद करेगा तो बच सकती हूं. 

जमालपुर के छोटी दरियापुर रामपुर बस्ती में रहने वाली एक विधवा मां पैसों के अभाव के कारण अपनी 19 साल की कैंसर पीड़ित बेटी का इलाज नहीं करा पा रही है. बच्ची की हालत ऐसी है कि उसके गले में कैंसर के कारण दो बड़ी-बड़ी गांठें पड़ गई हैं. जिसकी वजह से वो न तो ठीक से खा पा रही है और ना हीं ठीक से बोल पा रही है और उसे लगातार खून की उल्टी हो रही है.

देखें: आजतक LIVE TV

एक तरफ सरकार द्वारा गरीबों को मुफ्त में स्वास्थ्य सुविधा देने के लिए आयुष्मान योजना गोल्डन कार्ड सहित कई अन्य कल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही हैं, लेकिन इन योजनाओं का लाभ जरूरतमंदों को ठीक से नहीं मिल पा रहा है. पैसों के अभाव में कई गरीब परिवार अपने परिजनों का इलाज नहीं करा पा रहे हैं. जिसका ताजा उदहारण ये पीड़ित परिवार है जो एक एक पैसे के लिए मोहताज हो गया है. ये परिवार राह देख रहा है कि कोई इनकी मदद करे.

ये भी पढ़े

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें