scorecardresearch
 

मनी लॉन्ड्रिंग केस: मीसा भारती के खिलाफ ED ने दाखिल की नई चार्जशीट

मीसा भारती और उनके पति ने बिजनेसमैन सुरेंद्र जैन और विरेंद्र जैन की कंपनी के साथ मिलकर ब्लैक मनी को सफेद किया है. मामले में बिजनेसमैन की भी कोर्ट में पेशी हो चुकी है, लेकिन उसे बेल मिल गई थी.

(फाइल फोटो- मीसा भारती- ट्विटर) (फाइल फोटो- मीसा भारती- ट्विटर)

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती और उनके पति शैलेष कुमार के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने नई सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल की. इस पर कोर्ट 27 जुलाई को संज्ञान लेगा.

दरअसल, मीसा भारती और उनके पति शैलेष कुमार पर आरोप है कि उन्होंने 8 हजार करोड़ की ब्लैक मनी को व्हाइट किया है.

मीसा भारती और उनके पति ने बिजनेसमैन सुरेंद्र जैन और विरेंद्र जैन की कंपनी के साथ मिलकर ब्लैक मनी को सफेद किया है. मामले में बिजनेसमैन की भी कोर्ट में पेशी हो चुकी है, लेकिन उसे बेल मिल गई थी. इस मामले में ईडी ने मीसा भारती के दिल्ली स्थित एक फॉर्म हाउस को जब्त कर लिया था. ईडी ने कोर्ट के आदेश पर ये कार्रवाई की थी.

मीसा और शैलेश को सशर्त मिली थी जमानत

इससे पहले 8000 करोड़ के मनी लॉन्ड्रिंग मामले में मीसा और उनके पति शैलेश कुमार को 5 मार्च को पटियाला हाउस कोट की स्पेशल सीबीआई कोर्ट ने जमानत दे दी थी. हालांकि जमानत का ईडी ने विरोध किया था.

पटियाला हाउस कोर्ट ने बाकी और आरोपियों को मिली जमानत को ही आधार बनाते हुए मीसा यादव और उनके पति शैलेश कुमार को 2 लाख के मुचलके पर जमानत दी थी. ज़मानत देते वक्त कोर्ट ने उन्हें निर्देश दिया था कि वह विदेश जाने से पहले कोर्ट को सूचित करेंगे और इसकी इजाजत लेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें