scorecardresearch
 

लालू यादव की बेटी हेमा पर भी कसेगा सीबीआई का शिकंजा, रेलवे भर्ती घोटाला मामले में हृदयानंद चौधरी गिरफ्तार

सीबीआई की पूछताछ पर बड़े भाई देवेंद्र यादव ने दलील दी कि लालू प्रसाद की बेटी हेमा यादव को हृदयानंद भावनात्मक बहन मानते रहे हैं. इसलिए उन्‍होंने उनके नाम पर भी जमीन गिफ्ट की. मई महीने में भी जब सीबीआई ने इस मामले से संबंधित छापेमारी की थी. तब गोपालगंज में हृदयानंद चौधरी के पैतृक आवास पर पहुंची थी.

X
हेमा यादव और लालू यादव (फाइल फोटो)
हेमा यादव और लालू यादव (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जमीन गिफ्ट लेकर नौकरी देने का मामला
  • सीबीआई मार रही ताबड़तोड़ छापे

लालू यादव के सहयोगियों के साथ-साथ अब उनके परिवार पर भी सीबीआई का शिकंजा कसता जा रहा है. नौकरी के बदले गिफ्ट में जमीन लेने वालों पर सीबीआई कहर बनकर टूट पड़ी है. अब इस मामले में गिफ्ट लेने वाली लालू की बेटी हेमा यादव पर भी जांच की आंच आ सकती है. 

जमीन गिफ्ट लेने के मामले में गिरफ्तारी

सीबीआई ने जमीन लेकर नौकरी देने के मामले में दूसरी बड़ी कार्रवाई की है. सीबीआई ने गोपालगंज में रहने वाले एक रेलकर्मी हृदयानंद चौधरी को भी गिरफ्तार कर लिया है. सीबीआई ने गिरफ्तारी के बाद हृदयानंद चौधरी को कोर्ट में पेश किया है. मई महीने में भी जब सीबीआई ने इस मामले से संबंधित छापेमारी की थी. तब गोपालगंज में हृदयानंद चौधरी के पैतृक आवास पर पहुंची थी.

आपको बता दें कि मई महीने में रेलकर्मी हृदयानंद के गोपालगंज स्थित पैतृक आवास पर सीबीआई ने छापेमारी की थी. उस वक्त हृदयानंद चौधरी के बड़े भाई देवेंद्र चौधरी ने बताया कि सीबीआई की टीम ने चार घंटे तक घर की तलाशी ली थी. हृदयानंद चौधरी के बारे में उनसे जानकारी मांगी थी.

हेमा यादव तक पहुंचेगी जांच की आंच

सीबीआई की पूछताछ पर बड़े भाई देवेंद्र यादव ने दलील दी कि लालू प्रसाद की बेटी हेमा यादव को हृदयानंद भावनात्मक बहन मानते रहे हैं. इसलिए उन्‍होंने उनके नाम पर भी जमीन गिफ्ट की. हेमा यादव को गिफ्ट में दी गई प्रापर्टी कहां की है, कितने की है, कैसे हृदयानंद के पास इतनी प्रापर्टी आई, इन तमाम बिंदुओं पर सीबीआई ने गहनता से छानबीन की है.

उधर, उचकागांव थाना क्षेत्र के इटवा गांव निवासी हृदयानंद चौधरी ने रेलवे में नौकरी के नाम पर लालू यादव की बेटी को जमीन दी थी. इसी आरोप की जांच करने सीबीआई की टीम उनके घर पहुंची थी. देवेंद्र चौधरी जो उनके बड़े भाई हैं उन्होंने मीडिया को बताया कि हृदयानंद ने हेमा को यह जमीन 2017 में गिफ्ट की थी.

मई में सीबीआई की टीमों ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद से जुड़े अलग-अलग कुल 17 स्‍थानों पर छापेमारी की थी. दयाराम चौधरी पर हुई कार्रवाई के बाद लालू प्रसाद यादव की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. क्योंकि हृदयानंद चौधरी ने हेमा यादव को गिफ्ट में जमीन दी थी और ऐसे में कानूनविदों की माने तो हेमा यादव भी सीबीआई की रडार पर आ सकती हैं.


आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें