scorecardresearch
 

बिहार: बक्सर में एक लाख का इनामी नक्सली चढ़ा पुलिस के हत्थे, कई वारदातों में था शामिल

बिहार के बक्सर में एसटीएफ ने एक लाख रुपये के इनामी नक्सली को पकड़ने में सफलता हासिल की है. आरोपी नक्सली कई मामलों में मुख्य अभियुक्त था. एसटीएफ की टीम ने उसे बक्सर से गिरफ्तार किया है. उस पर सुरक्षाकर्मियों के हथियार छीनने का भी आरोप है.

X
इनामी नक्सली गिरफ्तार
इनामी नक्सली गिरफ्तार

बिहार के बक्सर में स्पेशल टास्क फोर्स यानी की एसटीएफ ने एक लाख रुपये के इनामी नक्सली गोपाल दास को गिरफ्तार कर लिया है. हार्डकोर नक्सली गोपाल दास को बक्सर स्टेशन के पास से एसटीएफ की विशेष टीम ने गिरफ्तार किया है.

नक्सली ऑपरेशन के एएसपी  कुणाल कुमार ने बताया कि गिरफ्तार हार्डकोर नक्सली साल 2018 में मुंगेर जिला के हवेली खड़गपुर थाना क्षेत्र में  फिरौती के लिए रामकृपाल कंस्ट्रक्शन कंपनी के चार मजदूरों को अगवा कर लिया था. इतना ही नहीं कंपनी के चार पोकलेन, दो हाईवा और एक मोटरसाइकिल को जला दिया था.

अधिकरी ने बताया कि गिरफ्तार नक्सली के विरुद्ध हवेली खड़गपुर थाना सहित अन्य कई थानों में एक दर्जन से अधिक कांड में नाम दर्ज है. एएसपी कुणाल कुमार के मुताबिक गिरफ्तार हार्डकोर नक्सली गोपाल दास सहित अन्य नक्सलियों के द्वारा अकबरनगर-शाहकुंड मार्ग में बीएमपी कैंप पर हमला किया गया था.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि खड़गपुर थाना क्षेत्र में दस साल पहले नक्सलियों ने यात्री शेड में चल रहे अस्थायी बीएमपी कैंप पर यह हमला किया था. गोपाल दास सहित अन्य नक्सलियों पर सवारी गाड़ी पर अंधाधुंध गोलियां चलाने का भी आरोप है. 

इस हमले में तब संतरी ड्यूटी पर मौजूद तीन सिपाहियों को भी गोली लगी थी. जवान जब तक खुद को संभालते तब तक नक्सलियों ने उन्हें घेर लिया था. इस दौरान नक्सलियों ने चार सेल्फ लोडिंग राइफल, दो स्टेंडगन, चार हैंड ग्रेनेड, करीब छह सौ राउंड गोलियां लूट ली थी.

इस हमले में एक-दो जवानों के हथियार इसलिए  बच गए थे क्योंकि उन्होंने उसे बिस्तर के अंदर छिपा रखा था. घटना के चश्मदीद बीएमपी हवलदार गोवर्धन झा के बयान पर 50 अज्ञात नक्सलियों पर केस दर्ज किया गया था जिसमें हार्डकोर नक्सली बीरबल मुर्मू, भीम तूरी, सुरेश कोड़ा जैसे नाम भी सामने आए थे.

इन सभी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की जा चुकी है. नक्सली गोपाल दास की गिरफ्तारी में एसटीएफ के अलावा जिला पुलिस बल के जवान भी शामिल थे.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें