scorecardresearch
 

Bihar: छात्राओं को बिना कपड़े की तस्वीर भेजता था प्रोफेसर, जांच में फंसा

दरभंगा में छात्राओं से छेड़छाड़ और देर रात अपनी बिना कपड़ों की तस्वीर भेजने के साथ अश्लील बातें करने वाले हिंदी के प्रोफेसर अखिलेश कुमार पर लगे सभी आरोप साबित हो गए हैं. फिलहाल यूनिवर्सिटी ने अखिलेश को हमेशा के लिए विभाग से बाहर कर दिया गया है. रिपोर्ट आने के बाद छात्राओं ने आरोपी प्रोफेसर की बर्खस्तगी की मांग की है.

X
प्रोफेसर अखिलेश कुमार की तस्वीर हुई थी वायरल
प्रोफेसर अखिलेश कुमार की तस्वीर हुई थी वायरल

बिहार के दरभंगा में छात्राओं से छेड़छाड़ और देर रात अपनी बिना कपड़ों की तस्वीर भेजने के साथ अश्लील बातें करने वाले हिंदी के प्रोफेसर अखिलेश कुमार पर लगे सभी आरोप साबित हो गए हैं. ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी के कुलसचिव डॉक्टर मुश्ताक अहमद ने पुष्टि करते हुए कहा कि प्रोफेसर अखिलेश कुमार दोषी पाए गए हैं.

छात्राओं के आरोप के बाद ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी ने आंतरिक रूप से जांच कराई थी. इसकी रिपोर्ट के अनुसार प्रोफेसर अखिलेश कुमार दोषी पाए गए. अब निलंबन की कार्यवाही हो सकती है. फिलहाल यूनिवर्सिटी ने अखिलेश कुमार को हमेशा के लिए विभाग से बाहर कर दिया गया है. रिपोर्ट आने के बाद छात्राओं ने आरोपी प्रोफेसर की बर्खस्तगी की मांग की है. 

क्या है पूरा मामला

ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी में हिंदी विभाग में प्रोफेसर डॉ. अखिलेश कुमार पर हिंदी विभाग की छात्राओं ने आपत्तिजनक तस्वीर भेजने का आरोप लगाया था. साथ ही नोट्स के बहाने अकेले घर भी बुलाने जैसे कई गंभीर आरोप लगे थे. इसको लेकर 29 जुलाई से 5 अगस्त तक यूनिवर्सिटी में छात्र संगठनों ने जोरदार आंदोलन भी किया था.

तब पूरे मामले को देखते हुए कुलपति नेन का डा. एलकेवीडी कालेज ताजपुर समस्तीपुर तबादला कर दिया गय था. इसके साथ ही आंतरिक जांच कमेटी गठित कर दी थी. अब डेढ़ माह बाद आंतरिक शिकायत समिति की रिपोर्ट सामने आने के बाद प्रोफेसर अखिलेश कुमार पर बर्खास्तगी की तलवार लटक रही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें