scorecardresearch
 

बिहार: खुद के अंतिम संस्कार के बीच लौटा शख्स, मच गया हड़कंप

मुजफ्फरपुर जिले के मुशहरी थाना क्षेत्र के बुधनगरा गांव में उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक शख्स का श्राद्धकर्म का कार्यक्रम चल रहा था वह सकुशल सामने आ गया. मृतक को सामने देखते ही लोग चौंक गए. बात पूरे गांव में आग की तरह फैल गई.

अपने ही अंतिम संस्कार पर घर लौटा युवक अपने ही अंतिम संस्कार पर घर लौटा युवक

  • बिहार के मुजफ्फरपुर में अंतिम संस्कार के बाद घर पहुंचा युवक
  • एक व्यक्ति का श्राद्धकर्म का कार्यक्रम चल रहा था वह सकुशल सामने आ गया

बिहार के मुजफ्फरपुर में एक चौंका देने वाला मामला सामने आया है. किसी व्यक्ति की मृत्यु हो चुकी हो. उसका अंतिम संस्कार हो चुका हो और वह अचानक सामने आ जाए. यह जानकर आपके होश उड़ जाएंगे, लेकिन एक ऐसा ही मामला बिहार के मुजफ्फरपुर जिले से सामने आया है.

मंगलवार को मुजफ्फरपुर जिले के मुशहरी थाना क्षेत्र के बुधनगरा गांव में उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक व्यक्ति का श्राद्धकर्म का कार्यक्रम चल रहा था वह सकुशल सामने आ गया. मृतक को सामने देखते ही लोग चौंक गए. बात पूरे गांव में आग की तरह फैल गई.

क्या था मामला

दरअसल बीते 25 अगस्त को मुजफ्फरपुर के मुशहरी थाना क्षेत्र के बुधनगरा गांव का रहने वाला 49 वर्षीय संजीव कुमार लापता हो गया था. संजीव के पिता रिटायर्ड सैनिक रामसेवक ठाकुर द्वारा मुशहरी थाना में एक मामला 6 सितंबर को दर्ज कराया गया था. जिसमें उन्होंने बताया था कि संजीव मंदबुद्धि है और पिछले कई दिनों से लापता है.

इस घटना के बाद  सिकंदरपुर ओपी इलाके के अखाड़ा घाट पुल के नजदीक गंडक नदी के किनारे लगे एक अधेड़ व्यक्ति का अज्ञात शव मिला था. जिसे पुलिस द्वारा कागजी प्रक्रिया पूरी कर पोस्टमार्टम के लिए SKMCH भेज दिया गया.

जब संजीव के परिजनों को ऐसी सूचना मिली कि कोई अधेड़ का शव मिला है पहचान नहीं हुई है उसको SKMCH में भेजा गया है. उक्त सूचना पर लापता संजीव के पिता अपने रिश्तेदारों के साथ SKMCH पहुंचे और उक्त अज्ञात शव को अपना बेटे का शव बताकर ले लिया.

रीतिरिवाजों के अनुसार उक्त अज्ञात शव का दाह संस्कार कर दिया. वहीं लापता संजीव उस वक्त घर आ पहुंचा जब उसका ही श्राद्धकर्म चल रहा था. इस पूरे घटनाक्रम में सबसे अहम सवाल यह है कि आखिर संजीव के घर वालों ने उस शव की पहचान कैसे कर डाली? जिस शव का अंतिम संस्कार किया गया वह किसका था?

पूछे जाने पर गायब हुए अधेड़ (संजीव) के पिता रामसेवक ठाकुर ने कहा कि बहुत खोजबीन के बाद पता चला कि जिले के सिकन्दरपुर ओपी क्षेत्र में नदी किनारे एक शव मिला जिसे पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए SKMCH भेज दिया है. हमने जब अस्पताल जाकर देखा तो अज्ञात शव को देखने के बाद वह हमारे बेटे जैसा ही लगा. हमने कागजी कार्रवाई करने के बाद शव ले लिया और दाह संस्कार कर दिया. इस दौरान हमारा बेटा ही सामने आ गया.

वहीं पूछे जाने पर केस के IO सब इंस्पेक्टर अब्दुल्ला खान ने बताया कि मामला दर्ज कर जांच की जा रही थी. इस बीच गायब मंदबुद्धि व्यक्ति अपने घर पर आ गया. अब कोर्ट में आगे की जानकारी दर्ज कराई जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें