scorecardresearch
 

'उप मुख्यमंत्री से पूछ लीजिए', कृषि मंत्री सुधाकर सिंह की नाराजगी पर बोले सीएम नीतीश कुमार

बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और कृषि मंत्री आमने-सामने नजर आ रहे हैं. मंगलवार को कैबिनेट की मीटिंग में मंत्री सुधाकर सिंह बीच से ही उठकर चले गए. उन्हें मनाने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने किसी की बात नहीं मानी और मंत्रिमंडल कक्ष से आउट हो गये. अब उनको लेकर नीतीश कुमार का बयान आया है.

X
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

बिहार में एनडीए का साथ छोड़कर नीतीश कुमार ने महागठबंधन के साथ सरकार को बना ली, लेकिन फिलहाल सरकार के अंदर सबकुछ ठीक नजर नहीं आ रहा है. कारण, राजद के कई नेता गठबंधन धर्म से अलग हटकर लगातार बयानबाजी कर रहे हैं. वहीं मंत्रियों के बीच असंतोष की घटना भी देखी जा रही है. कई राजद कोटे के मंत्री सीधे नीतीश कुमार के खिलाफ नजर आ रहे हैं. राजद कोटे के एक मंत्री तो सीधे नीतीश कुमार के खिलाफ खड़े हो गये हैं. यानि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और कृषि मंत्री आमने-सामने हैं. मंगलवार को कैबिनेट की मीटिंग में मंत्री सुधाकर सिंह बीच से ही उठकर चले गए. उन्हें मनाने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने किसी की बात नहीं मानी और मंत्रिमंडल कक्ष से आउट हो गये. 

दरअसल, बिहार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह ने दो दिन पहले कहा था कि हमारे विभाग में सभी के सभी अधिकारी और कर्मचारी चोर हैं. लेकिन मैं कृषि मंत्री हूं, उसका मतलब मैं चोरों का सरदार हुआ. यह सरकार 17 साल पुरानी है. सारे अधिकारी पुरानी सरकार के समय के हैं. यानि अपनी ही सरकार को कृषि मंत्री ने भ्रष्ट करार दिया था. सुधाकर सिंह आज भी अपनी बात पर कायम हैं.

मैंने पूछा था कि क्या हुआ- नीतीश कुमार

बता दें कि मंगलवार को कैबिनेट की मीटिंग में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कृषि मंत्री से इस संबंध में जानकारी मांगी. लेकिन कृषि मंत्री ने सीएम को कोई जानकारी नहीं दी और उठकर चल दिये. खुद सीएम नीतीश कुमार ने इसकी जानकारी दी है. साथ ही यह भी कहा है कि डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव से पूछ लीजिए. पटना में आज मीडिया से बातचीत करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि कृषि मंत्री का एक बयान आया था. जिसके बाद मैंने पूछा था कि क्या हुआ है. हमने अधिकारियों को भी निर्देश दिए थे कि इस मामले को देखा जाए. कैबिनेट की बैठक में कृषि मंत्री सुधाकर सिंह से हम पूरा मामला जानना चाह रहे थे. लेकिन वे बताने की बजाय वहां से चल दिए. 

'एग्रीकल्चर विभाग के सेक्रटरी से अच्छा आदमी है क्या?'

मुख्यमंत्री ने कहा कि वहां मौजूद लोगों ने भी उन्हें बहुत समझाया. हमने उनको मौका दिया कि यदि कोई वजह है आप बता सकते हैं. आप उप मुख्यमंत्री से भी पूछ सकते हैं. सीएम नीतीश कुमार ने आगे कहा कि एग्रीकल्चर विभाग की आप खुद जांच करा लीजिए. विभाग के जो सेक्रेटरी हैं, उनसे कोई अच्छा आदमी है क्या, कितने अच्छा आदमी हैं वो. बिहार में जो कृषि रोड मैप बनाया गया है और जो उस पर काम हो रहा है, वह देखने लायक है. मैं खुद इलाके का एरियल सर्वे करके देख रहा हूं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें