scorecardresearch
 

बिहार: मुस्लिम महिला रुखसाना के साथ 29 महिला-पुरुष कैदियों ने की छठ पूजा

लोक आस्था के महापर्व छठ में आम और खास का कोई फर्क नहीं दिखता है. ऐसा ही सीवान के मंडल कारागार में देखने को मिला. यहां मुस्लिम महिला कैदी के साथ तकरीबन 29 महिला-पुरुष कैदियों ने छठ व्रत किया. इस अवसर पर जेल अधीक्षक संजीव कुमार ने बताया, "जेल के अंदर ही छठ पूजा की तैयारी की गई थी."

X
सिवान जेल में कैदियों ने मनाया छठ
सिवान जेल में कैदियों ने मनाया छठ

सीवान के मंडल कारा में बंद मुस्लिम महिला के साथ तकरीबन 29 महिला-पुरुष कैदियों ने छठ का पूजन और व्रत किया. रूखसाना ने पिछले साल भी जेल में छठ पूजा की थी. इसके साथ ही आज सोमवार को देशभर में छठ के महापर्व का समापन हो गया.

7 साल से कर रही छठ
मुस्लिम महिला कैदी रुखसाना पिछले 7 साल से सीवान जेल में है. वो 7 साल से छठ पूजा कर रही है. उनका मानना है कि कुछ मन्नत थी, जो पूरी हुई है. इसके बाद से ही वो हर साल छठ पूजा करने लगी है. हालांकि, जेल प्रशासन द्वारा जेल के भीतर ही घाट बना कर पूरे कैंपस को सजाया गया था.  

जेल में ही बना था घाट
इस अवसर पर जेल अधीक्षक संजीव कुमार ने बताया, "जेल के अंदर ही छठ पूजा की तैयारी की गई थी. जेल प्रशासन ने पूजा सामग्री से लेकर वस्त्र तक छठ व्रतियों को मुहैया कराया था. वहीं, तालाबनुमा खुदाई करा कर घाट बनाया गया, ताकि किसी भी बंदी छठ व्रतियों को अर्घ्य देने में परेशानी न हो."

उन्होंने आगे बताया, "जेल प्रशासन ने छठ का व्रत करने वालों को पूजा में उपयोग होने वाली सभी चीजें उपलब्ध कराई गईं थीं. इस छठ व्रत पूजा में 21 महिला और 8 पुरुष शामिल थे. इनमें एक मुस्लिम महिला भी शामिल थी."

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें