scorecardresearch
 

फास्टैग न लगवाने वालों की अब खैर नहीं !

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि फास्टैग के कार्यान्वयन की समय सीमा को आगे नहीं बढ़ाया जायेगा. उन्होंने कहा कि वाहन मालिकों को तुरंत इस ई-भुगतान सुविधा को अपनाना चाहिए.

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (पीटीआइ) केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (पीटीआइ)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • फास्टैग की सुविधा 2016 में शुरू की गई थी
  • फास्टैग टोल प्लाजाओं पर शुल्क के इलेक्ट्रॉनिक भुगतान की सुविधा प्रदान करता है
  • केंद्र सरकार ने वाहनों के लिये अनिवार्य फास्टैग की समयसीमा एक जनवरी 2021 से बढ़ाकर 15 फरवरी 2021 कर दी है

अगर आपने अब तक अपनी गाड़ी पर फास्टैग नहीं लगावाया है तो अब जरूर लगवा लें. केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने रविवार (14 फरवरी) को कहा कि फास्टैग के कार्यान्वयन की समय सीमा को आगे नहीं बढ़ाया जायेगा. उन्होंने कहा कि वाहन मालिकों को तुरंत इस ई-भुगतान सुविधा को अपनाना चाहिए.

फास्टैग की सुविधा 2016 में शुरू की गई थी. फास्टैग टोल प्लाजाओं पर शुल्क के इलेक्ट्रॉनिक भुगतान की सुविधा प्रदान करता है. टैग अनिवार्य बनाने से यह सुनिश्चित करने में भी मदद मिलेगी कि वाहनों को टोल प्लाजा के माध्यम से बिना रुके गुजरने की सुविधा दी जाए.

केंद्र सरकार ने वाहनों के लिये अनिवार्य फास्टैग की समयसीमा एक जनवरी 2021 से बढ़ाकर 15 फरवरी 2021 कर दी है, जिसके अब बढ़ने के आसार नहीं है. गडकरी ने नागपुर हवाईअड्डे पर फास्टैग को लेकर एक प्रश्न का उत्तर देते हुए कहा कि सरकार ने फास्टैग पंजीकरण की समयसीमा को दो-तीन बार बढ़ाया है और अब इसे आगे नहीं बढ़ाया जायेगा. अब हर किसी को तुरंत फास्टैग खरीदना चाहिए.

उन्होंने यह भी कहा कि कुछ मार्गों पर फास्टैग का पंजीकरण 90 प्रतिशत हो गया है और केवल 10 प्रतिशत लोग ही बचे हैं. उन्होंने कहा कि टोल नाकों पर भी फास्टैग उपलब्ध है और लोगों को इसका इस्तेमाल सहज यातायात के लिये करना चाहिए.

गौरतलब है कि बीते ही हफ्ते भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआइ) ने फास्टैग अकाउंट में न्यूनतम राशि की अनिवार्यता खत्म कर दी है. जिससे फास्टैग वॉलेट में मिनिमम बैलेंस न होने पर भी आपकी गाड़ी हाईवे के टोल प्लाजा पर नहीं रुकेगी.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें