scorecardresearch
 

छह माह बाद पुलिस ने दर्ज की लापता लड़की की एफआइआर, मां रो-रोकर बेहाल

पिटती बेटी का वायरल वीडियो लेकर पुलिस थाने पहुंची मां, तब जाकर पुलिस ने दर्ज की एफआइआर.

X
वीडियो वायरल होने के बाद जागी पुलिस
वीडियो वायरल होने के बाद जागी पुलिस

झांसी। वह हाथ जोड़ रही है. रहम की भीख मांग रही है, लेकिन उसे बंधक बनाए युवक पर इस कदर शैतान सवार है कि वह उसे पीटता ही जा रहा है. हाल ही में वायरल हुए वीडियो में बेरहमी से पिट रही लड़की की हालत ने रौंगटे खड़े कर दिए.

पिछले छह माह से अपनी बेटी के गायब होने को लेकर पुलिस के आला अधिकारियों के चक्कर लगाकर हार चुकी उसकी मां तक भी यह वीडियो पहुंचा तो वह एक बार फिर अपनी बेटी को युवकों के चंगुल से मुक्त कराने के लिए पुलिस की शरण में पहुंच गई.

इस बार सबूत के तौर पर वीडियो था तो पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है. नबावाद थाना इलाके के गुमनावारा इलाके में रहने वाली वती की 14 साल की बेटी उर्मिला बीते 17 फरवरी से लापता है.

जब से वह गायब हुई तभी से उसके पड़ोस में रहने वाला एक युवक भी गायब था. उसके बाद वह अपने साथियों के साथ देखा गया, लेकिन उर्मिला की कोई जानकारी नहीं मिल सकी.

मजदूरी कर अपना जीवन यापन करने वाली उर्मिला की मां वती अपनी बेटी के लिए कई बार पुलिस के आला अधिकारियों से गुहार लगा चुकी है. पुलिस ने आरोपी युवक से एक दो बार पूछताछ भी की, लेकिन जांच को इतने हल्के में किया गया कि आरोपी स्वतंत्र घूमते रहे.

वीडियो वायरल होने के बाद जागी पुलिस

अब जब लड़की का वीडियो वायरल हुआ है तो झांसी पुलिस नींद से जागी है. वीडियो पुराना बताया जा रहा है, जिसके बाद इस बात की चिंता भी उसकी मां को सताने लगी है कि उसकी बेटी किस हाल में होगी.

मानवता को शर्मसार कर देने वाले वीडियो में एक युवक डंडे से नाबालिग लड़की को बेरहमी से पीट रहा है. वह चीख रही है, हाथ जोड़कर रहम की भीख मांग रही है, लेकिन पीटने वाले पर कोई फर्क नहीं पड़ रहा.

यह वीडियो पीड़ित लड़की की मां तक उसके पड़ोस में ही रहने वाले राघवेन्द्र सिंह ने पहुंचाया है. राघवेन्द्र का कहना है कि जो लड़का पीट रहा है वह मुहल्ले में ही रहते हैं.

लड़की को पहचानने के बाद यह वीडियो उसकी मां वती को दिखाया तो उसने भी उसे पहचान लिया. पीड़ित लड़की की मां वती का कहना है कि वीडियो में जो लड़की पिट रही है वह उसी की लड़की है.

उसने कई बार पुलिस से मदद मांगी थी, लेकिन किसी ने नहीं सुनी. वीडियो सामने आने के बाद उसने पुलिस को लिखित शिकायत दी है, जिसमें बृजेन्द्र केवट तथा दो अज्ञात लोगों के खिलाफ शिकायत की है. इसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी.

इस मामले पर झांसी के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह ने कहा है कि मामला संज्ञान में आने के बाद एफआईआर दर्ज कर ली गई है. जांच के बाद आरोपियों को पकड़ा जाएगा.

लेकिन, अब सवाल यही है कि पुलिस इतने दिनों तक खामोश क्यों बैठी रही. शिकायत करने के बाद भी कार्रवाई क्यों नहीं की गई.

इतने समय बाद अब लड़की कहां और किस हाल में है. यदि लड़की नहीं मिली तो क्या पुलिस इसे अपनी लापरवाही मानकर जिम्मेदारों पर भी कार्रवाई करेगी.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें