scorecardresearch
 

माफि‍याओं से छुड़ाई गई जमीन पर लगेंगे कारखाने

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार माफि‍याओं-अपराधि‍यों से मुक्त कराई गई जमीन पर उद्योग-धंधे लगाने की योजना तैयार कर रही है.

प्रयागराज में अतीक अहमद के बंगले का अवैध न‍िर्माण ढहाया गया प्रयागराज में अतीक अहमद के बंगले का अवैध न‍िर्माण ढहाया गया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • योगी सरकार के सख्त निर्देश पर माफियाओं की सैकड़ों बीघा जमीन मुक्त कराई गई है
  • सबसे ज्यादा कार्रवाई लखनऊ, प्रयागराज, गाजीपुर, वाराणसी, मऊ और मेरठ जैसे शहरों में की गई है
  • इन जिलों में माफि‍याओं से 100 बीघा से अधि‍क जमीन मुक्त कराई गई है

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार माफि‍याओं-अपराधि‍यों से मुक्त कराई गई जमीन पर उद्योग-धंधे लगाने की योजना तैयार कर रही है. उद्योगों के लिए जमीन का इंतजाम कराने के लिए प्रदेश सरकार हर जिले में एक लैंड बैंक बनाकर जमीन और संप‍त्त‍ियों की जियो टैंगिंग करने की तैयारी में है. इसका फायदा यह होगा कि कोई भी निवेशक अपने उद्योग के लिए मुफीद जमीन की तलाश ऑनलाइन कर सकेगा. इसके लिए उन जिलों पर ज्यादा फोकस किया जा रहा है जहां माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई में सरकारी जमीन को कब्जे से मुक्त कराया गया है. इन जमीनों पर दोबारा कब्जा न हो इसलिए इसका विभिन्न उद्योग धंधों में उपयोग करने पर जोर दिया जा रहा है. शासन के एक अधि‍कारी बताते हैं, “शासन ने  संबंधि‍त जिलों से माफि‍याओं से मुक्त कराई गई जमीन की विस्तृत रिपोर्ट मांगी है. रिपोर्ट में खासतौर से इसका उल्लेख करना होगा कि संबंधित जमीन कितनी है और वहां आवागमन के क्या साधन हैं? उक्त जमीन पर किस प्रकार के उद्योग लगाए जा सकते हैं?” माफि‍याओं से सरकारी जमीन मुक्त कराने की सबसे ज्यादा कार्रवाई लखनऊ, प्रयागराज, गाजीपुर, वाराणसी, मऊ, मेरठ जैसे शहरों में की गई है. इन जिलों में माफि‍याओं से 100 बीघा से अधि‍क जमीन मुक्त कराई गई है.

योगी सरकार के सख्त निर्देश पर हो रही कार्रवाई में माफियाओं को अब तक अरबों की आर्थिक चोट पहुंचाकर सैकड़ों बीघा जमीन मुक्त कराई गई है. कार्रवाई की जद में माफिया और गैंगेस्टर, पूर्व सांसद और पूर्व विधायक सहित कई और जन प्रतिनिधि भी शामिल हैं. किसी का अवैध मकान, मॉल और गेस्ट हाउस गिराया गया तो किसी से कब्जा की गई करोड़ों की जमीन को मुक्त किया गया है. जिला और पुलिस प्रशासन की टीम स्थानीय प्राधिकरणों की मदद से माफियाओं, उनके रिश्तेदारों तथा गुर्गों के नाम की गई बेनामी संपत्तियों का ब्योरा जुटा रही है. इस प्रदेशव्यापी कार्रवाई की जद में अब तक 210 माफिया और गैंगेस्टर आ चुके हैं. इन्हें 766 करोड़ रुपए यानी साढ़े सात अरब रुपए से अधिक की आर्थिक चोट पहुंचाई जा चुकी है. प्रयागराज में पुलिस, प्रशासन और विकास प्राधिकरण ने पूर्व सांसद अतीक अहमद, उसके भाई पूर्व विधायक खालिद अजीम उर्फ अशरफ समेत कुल 23 लोगों के खिलाफ सरकारी जमीन को कब्जे से मुक्त कराने से लेकर ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की है. इन माफि‍याओं से 25 बीघा से अधि‍क जमीन मुक्त कराई गई है. अधिकारियों की मानें तो इस कार्रवाई में इन्हें करीब 300 करोड़ रुपए की आर्थिक चोट पहुंचाई जा चुकी है. 

पूर्वांचल में मुख्तार अंसारी समेत 104 माफिया और उनके करीबियों के खिलाफ कार्रवाई कर मकान, जमीन, शस्त्र लाइसेंस समेत 103 करोड़ रुपए से ज्यादा की संपत्ति जब्त की गई हैं. वहीं लखनऊ में मुख्तार अंसारी उसके बेटों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई कर करीब 100 करोड़ रुपए की संपत्ति ढहा दी गई और काफी संपत्ति कुर्क कर दी गई. मुख्तार को आर्थिक चोट पहुंचाने के लिये उसके भाई सांसद अफजाल अंसारी की संपत्ति को भी स्थानीय जिला प्रशासन ने अवैध निर्माण घोषित कर दिया. यह संपत्ति अफजाल की पत्नी फरहत के नाम है. मुख्तार के बेहद करीब हरविन्दर उर्फ जुगनू की करीब ढाई करोड़ रुपये की सम्पत्ति कुर्क कर दी गई. इसमें कई लग्जरी वाहन भी थे. पीजीआई कोतवाली के हिस्ट्रीशीटर राम सिंह पर गैंगस्टर ऐक्ट के तहत 84 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क कर उसका आर्थिक साम्राज्य पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया गया है.    

माफियाओं पर कार्रवाई एक नजर में

#प्रयागराज में पूर्व सांसद अतीक अहमद, पूर्व विधायक अशरफ समेत 23 के खिलाफ हुई कार्रवाई में 300 करोड़ रुपए की आर्थिक चोट.  

#वाराणसी सहित पूर्वांचल के जिलों में 104 माफियाओं की 103 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की गई.  

#लखनऊ में मुख्तार अंसारी और उनके भाई समेत तीन के खिलाफ हुई बड़ी कार्रवाई में 186 करोड़ रुपए की चोट.  

#कानपुर रेंज में 29 अपराधियों की 60.32 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की गई.  

#गोरखपुर और देवरिया में चार माफियाओं की 33.10 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क. 

#बरेली और मुरादाबाद मंडल के नौ जिलों में 25 माफिया और गैंगेस्टर की 30 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की गई.  

#पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 13 माफिया और गैंगेस्टर की आर्थिक रूप से कमर तोड़कर 34.65 करोड़ रुपए की संपत्ति मुक्त और कुर्क की गई.  

#ब्रज में माफियाओं के खिलाफ हुई संपत्ति जब्तीकरण की कार्रवाई में नौ माफियाओं की 17.82 करोड़ रुपए की संपत्ति अब तक जब्त की जा चुकी है.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें