scorecardresearch
 

हमारा गांधी, उनका गोडसे का राष्ट्रवादः भूपेश बघेल

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वी जयंती के उपलक्ष्य में गांधी विचार पदयात्रा पर निकले छत्तीशगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भाजपा के राष्ट्रवाद के विचार को नकार दिया है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस का राष्ट्रवाद वही है जो महात्मा गांधी का राष्ट्रवाद का विचार था

फोटोः चंद्रदीप कुमार फोटोः चंद्रदीप कुमार

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वी जयंती के उपलक्ष्य में गांधी विचार पदयात्रा पर निकले छत्तीशगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भाजपा के राष्ट्रवाद के विचार को नकार दिया है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस का राष्ट्रवाद वही है जो महात्मा गांधी का राष्ट्रवाद का विचार था, यानी असहमति रखने वाले को भी साथ रखना और सम्मान देना. बघेल ने कहा कि भाजपा का राष्ट्रवाद वही है जो नाथूराम गोडसे का राष्ट्रवाद था. यानी, असहमति रखने वाले को मिटा देना, उन्हें समाप्त कर देना.

मुख्यमंत्री बघेल 4 से 10 अक्टूबर तक गांधी विचार यात्रा पर हैं. इंडिया टुडे से बातचीत में मुख्यमंत्री ने दावा किया कि गांधी की विचारधारा पर कांग्रेस न सिर्फ अब तक चली है बल्कि हमेशा कायम रहेगी. उन्होंने कहा कि यदि भाजपा और मोदी महात्मा गांधी की राह पर तनिक भी चले होते, तो न तो मॉब लिंचिंग होती, न ही इनके खिलाफ लिखने वालों पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज होता और न ही भाजपा के अंदर उनकी पार्टी के बड़े नेताओं की बेज्जती होती.

देश की आर्थिक बदहाली का जिक्र करते हुए बघेल ने दावा किया कि यह एक औऱ नमूना है जो साबित करता है कि सिर्फ कांग्रेस गांधी के विचार पर चल रही है. बघेल ने कहा, "गांधी कहते थे कि समाज के कमजोर लोगों को मजबूत करो. हमने छत्तीसगढ़ में यही किया. लोगों के हाथ मे पैसे दिए, भाजपा की तरह कॉर्पोरेट को पैसे नहीं दिए. इसलिए जब पूरा देश भीषण आर्थिक मंदी में है छत्तीसगढ़ में कही भी मंदी नही है." 

मुख्यमंत्री ने कहा कि ऑटो सेक्टर में देश में मंदी है लेकिन छत्तीसगढ़ में 13 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है. दस्तावेज पंजीकरण और राजस्व आय में जबरदस्त उछाल है. सर्राफा बाजार में 52 फीसदी वृद्धि दर्ज की गई है. यह सब इसलिए संभव हुआ क्योंकि राज्य सरकार ने लोगों तक पैसे पहुंचाए. मुख्यमंत्री ने दावा किया कि धान का समर्थन मूल्य 2,500 रु. करने से लोगों के हाथ में पैसे गए. बघेल ने कहा कि उनकी सरकार कॉर्पोरेट को पैसे देकर फायदा नहीं पहुंचाती है, इसलिए छत्तीसगढ़ में मंदी नहीं है. मोदी ने कॉर्पोरेट घरानों को लाभ पहुंचाया, सो आर्थिक मंदी घटने की जगह बढ़ रही है.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें