scorecardresearch
 

टनल के भीतर जाइये, सेनेटाइज्ड होकर निकलिए

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह जिले में प्रदेश की पहली सैनेटाइजिंग टनल शुरू हुई है. विदेशों की तर्ज पर गोरखपुर की महेवा स्थित फल और सब्जी मण्डी के गेट पर आने वाले लोगों को विसंक्रमित करने के लिए सैनेटाइजिंग टनल तैयार की गयी है.

X
फोटोः आशीष मिश्र फोटोः आशीष मिश्र

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह जिले में प्रदेश की पहली सैनेटाइजिंग टनल शुरू हुई है. विदेशों की तर्ज पर गोरखपुर की महेवा स्थित फल और सब्जी मण्डी के गेट पर आने वाले लोगों को विसंक्रमित करने के लिए सैनेटाइजिंग टनल तैयार की गयी है. शुक्रवार, अप्रैल 03 को कमिश्नर जयंत नार्लिकर ने खुद इसका ट्रायल किया. वह टनल के अंदर गए और बाहर आते ही उनका पूरा शरीर सैनेटाइज हो गया. प्रयोग सफल होने के बाद टनल आम लोगों के लिए खोल दी गयी है.

मण्डी में प्रवेश करने वाला प्रत्येक व्यक्ति टनल से होकर गुजरे, यह सुनिश्चित करने के लिए पुलिस बल की तैनाती की गई है. यहां सिर्फ 30 सेकेंड में शरीर सैनेटाइज हो जाएगा.

ट्रायल के बाद कमिश्नर ने टनल में कुछ सुधार के सुझाव दिए हैं. उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से कहा कि टनल के भीतर निश्चित मात्रा में ही स्प्रे कराना सुनिश्चित करें. जिला प्रशासन अब जल्द ही बीआरडी मेडिकल कालेज के गेट पर भी सैनेटाइजिंग टनल लगाने की तैयारी कर रहा है. इससे लोगों के बीच संक्रमण फैलने से रोकने में काफी मदद मिलेगी।

गोरखपुर में अगर सैनेटाइज्ड टनल का यह मॉडल सफल रहा तो इसे यूपी के अन्य महत्वपूर्ण जगहों पर लागू किया जाएगा.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें