scorecardresearch
 

बॉलीवुड को इसलिए पसंद है आपटा स्टेशन

बॉलीवुड के लिए मध्य रेलवे का आपटा स्टेशन सबसे ज्यादा पसंदीदा रेलवे स्टेशन है. यहां दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे का वह लोकप्रिय ट्रेन का सीन फिल्माया गया था जिसमें अमरीश पुरी काजोल से कहते हैं, "जा सिमरन जा जी ले अपनी जिंदगी."

आपटा स्टेशन आपटा स्टेशन

बॉलीवुड के लिए मध्य रेलवे का आपटा स्टेशन सबसे ज्यादा पसंदीदा रेलवे स्टेशन है. इसकी वजह है कि वे यहां पर अपनी फिल्मों की शूटिंग आराम से करते हैं. शूटिंग के दौरान उन्हें आम रेल यात्रियों से किसी तरह की परेशानी नहीं होती है. शाहरुख़ खान हों या अमिताभ बच्चन या रजनीकांत उन्हें उनके प्रशंसक भी ऑटोग्राफ लेने या फोटो खिंचाने के लिए परेशान नहीं करते हैं. इत्मिनान से शूटिंग करने से फिल्म वालों के लिए यह स्टेशन लोकप्रिय शूटिंग स्थल बन गया है. वित्तीय वर्ष 2019-2020 के दौरान यहां चार फिल्मों की शूटिंग हुई जिसमें रात अकेली है, मुंबई सागा और शुभ मंगल ज्यादा सावधान फिल्में शामिल हैं. चार फिल्मों की शूटिंग से रेलवे को 22 लाख 61 हजार रूपए की आमदनी हुई.

यही वो आपटा स्टेशन है जहां शाहरुख़ खान और काजोल अभिनीत फिल्म दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे का वह लोकप्रिय ट्रेन का सीन फिल्माया गया था जिसमें अमरीश पुरी अपनी बेटी काजोल से कहते हैं, "जा सिमरन जा जी ले अपनी जिंदगी." इस फिल्म के अलावा कुछ कुछ होता है, रंग दे बसंती, बागी, खाकी, शादी नंबर वन, चायना टाउन जैसी दर्जनों फिल्मों की भी शूटिंग हो चुकी है.

आखिर यह स्टेशन फिल्म वालों की आंखों में क्यों बसा हुआ है? इसकी खासियत के बारे में मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार बताते हैं, "आपटा स्टेशन के एक तरफ पहाड़ है और खूबसूरत प्राकृतिक सौंदर्य से सजा हुआ है. दूसरी ओर सड़क के पास नदी है जो अलग ही तरह से मन को मोहता है." कम भीड़ वाले इस स्टेशन पर कुछ ट्रेनों का ठहराव है. यह एक क्रॉसिंग स्टेशन है और एक अतिरिक्त ट्रैक भी है जिससे शूटिंग के लिए दिक्कत नहीं होती है. शूटिंग के लिए बुक की गई विशेष ट्रेनों की आवाजाही आसानी से होती है. बकौल सुतार, "मुंबई से फिल्म वालों और ऐक्टरों को आना आसान है. मुंबई की फिल्मसिटी से 75 किलोमीटर की दूरी तय करके दो घंटे में पनवेल-रोहा मार्ग पर स्थित इस स्टेशन पर पहुंचा जा सकता है. क्रू मेंबर और उपकरणों को रखने में भी दिक्कतें नहीं हैं. ऐक्टर्स की वैनिटी वैन को पार्क करने के लिए पर्याप्त जगह है." तमाम सुविधाओं वाले इस स्टेशन पर फिल्मों के साथ वेब सीरीज, टीवी सीरियल और डॉक्युमेंट्री की भी शूटिंग होती है.

मध्य रेलवे का आपटा इकलौता स्टेशन नहीं है जहां फिल्मों की शूटिंग होती हो. छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस स्टेशन पर भी वित्तीय वर्ष 2019-2020 के दौरान आठ फिल्मों की शूटिंग हुई जिसमें पंगा, चोक्ड और सूरज पे मंगल भारी फिल्में शामिल हैं. पनवेल, चौक, लोनावाला, खंडाला, वठार और सतारा स्टेशनों के साथ तुर्भे और वाड़ी बंदर यार्ड में भी खूब शूटिंग होती है. फिल्मों की शूटिंग से रेलवे कमाई भी कर रही है. वर्ष 2019-2020 ये दौरान 21 फिल्मों की शूटिंग से रेलवे ने 1.33 करोड़ रूपए की कमाई की. छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस स्टेशन ने 44.52 लाख, पनवेल स्टेशन ने रजनीकांत की दरबार से 22.10 लाख, वठार स्टेशन ने सलमान खान की दबंग-3 से 15.70 लाख रूपए कमाकर दिए. पुणे से मुंबई के बीच आमिर खान अभिनीत फिल्म लाल सिंह चड्ढा का भी एक सीन फिल्माया गया है. सिंगल विंडो की वजह से फिल्म वालों को शूटिंग की इजाजत लेने में दिक्कत नहीं होती है. कोरोना महामारी के कारण पांच महीने से शूटिंग नहीं हो पा रही है. लेकिन लॉकडाउन में ढील मिलने से अब एक-दो महीने में फिल्म शूटिंग की रौनक लौट सकती है.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें