scorecardresearch
 

टीएसी सिक्योरिटी के सीईओ त्रिशनीत की अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात

भारत की साइबर सिक्योरिटी कंपनी टीएसी सिक्योरिटी के सीईओ त्रिशनीत अरोड़ा ने अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात की और सुरक्षा चुनौतियों से प्रभावी ढंग से निपटने के तरीकों पर विस्तार से चर्चा की.

X
अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के साथ त्रिशनीत
अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के साथ त्रिशनीत
स्टोरी हाइलाइट्स
  • त्रिशनीत की हाल ही में अल्बुकर्क में हुई कमला हैरिस से मुलाकात
  • दोनों साइबर सुरक्षा के मसले पर विस्तार से चर्चा की
  • युवा साइबर सुरक्षा उद्यमी त्रिशनीत की विश्व स्तर पर पहचान है

-इंडिया टुडे

भारत की साइबर सिक्योरिटी कंपनी टीएसी सिक्योरिटी के संस्थापक और सीईओ 29 वर्षीय त्रिशनीत अरोड़ा के लिए यह दिल को छू लेने वाला बेहद भावुक पल था, जब उन्होंने हाल ही में अल्बुकर्क में भारतीय मूल की अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात की. दोनों ने साइबर सुरक्षा चुनौतियों से प्रभावी ढंग से निपटने के तरीकों और साधनों पर विस्तार से चर्चा की.

युवा आंत्रप्रेन्योर ने हैरिस से मुलाकात के बाद एक ट्वीट के जरिए अपनी खुशी जाहिर की. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘हाल की अमेरिका यात्रा के दौरान उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मिलकर खुशी हुई. अमेरिका की वाइस प्रेसिडेंट के तौर पर उनकी मौजूदगी दुनिया भर में महिलाओं को सशक्त बना रहा है और उनके लिए एक मजबूत प्रेरणा के रूप में बनी हुई हैं.’’

त्रिशनीत ने कहा, ‘‘मैं संयुक्त राज्य अमेरिका के उपराष्ट्रपति से मिलकर बहुत सम्मानित महसूस कर रहा हूं. वह दुनिया भर में महिलाओं को सशक्त बना रही हैं और उनके लिए एक मजबूत प्रेरणा हैं. मैंने उनके साथ साइबर सुरक्षा के खतरे से निपटने के लिए अपना दृष्टिकोण साझा किया, जो अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस के अनुसार भी, एक गंभीर वैश्विक चुनौती बन गया है.’’

उन्होंने आगे कहा, ‘‘साइबर चुनौतियां लगातार समस्याएं पैदा कर रही हैं. जैसे-जैसे दुनिया डिजिटलाइजेशन की ओर तेजी से बढ़ रही है, वैसे वैसे साइबर सुरक्षा की चुनौती बड़ी होती जा रही है. साइबर सुरक्षा इस समस्या के केंद्र में है. वैश्विक साइबर सुरक्षा चिंताएं अब और भी गंभीर हैं. इसलिए, साइबर आतंकवाद पर भारत-अमेरिका के बीच मजबूत संबंधों को देखते हुए, मैंने अमेरिकी वाइस प्रेसिडेंट से साइबर खतरों के प्रति मजबूत सुरक्षा को लेकर बात की और इस पर तेजी से काम करने की जरूरत को सामने रखा. साथ ही उनसे  साइबर-स्कोरिंग प्रमुख नीति के साथ इकोसिस्टम को मजबूत करने का आग्रह भी किया है.’’

युवा साइबर सुरक्षा उद्यमी त्रिशनीत न केवल भारत में बल्कि विश्व स्तर पर अपनी पहचान रखते हैं. वह आकर्षण का केंद्र थे जब हाल ही में हैरिस ने उन्हें अल्बुकर्क में उद्यमियों की एक विशेष सभा में आमंत्रित किया था. उल्लेखनीय है कि त्रिशनीत ने इस कार्यक्रम के अलावा हैरिस के साथ एक निजी सेशन भी रखा था.

त्रिशनीत ने अपनी पढ़ाई छोड़ दी और 2013 में महज 19 साल की उम्र में अपनी आंत्रप्रेन्योरशिप की यात्रा शुरू की. उन्होंने टीएसी सिक्योरिटी की स्थापना की, जो अब वनरेबिलिटी मैनेजमेंट में विशेषज्ञता वाला एक वैश्विक साइबर सुरक्षा एक्सपर्ट हैं. त्रिशनीत फोर्ब्स की 30 अंडर-30 लिस्ट में भी शामिल हैं. 2021 में, उन्हें फॉर्च्यून इंडिया की 40 अंडर-40 सूची में दूसरी बार सूचीबद्ध किया गया था. दोनों बार उनको सबसे कम उम्र के होने के बावजूद इस सूची में जगह बनाने का मौका मिला.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें