scorecardresearch
 

'मिर्जापुर' की जरीना हर दिल पर राज करेगी: अनंग्शा बिस्वास

अनंग्शा बिस्वास कहती हैं कि इस बार जरीना का कैरेक्टर ग्राफ बहुत बदला हुआ दिखेगा और दर्शकों को काफी मजा आएगा.

मिर्जापुर-2 में भी अनंग्शा बिस्वास धमाल मचाने को तैयार हैं मिर्जापुर-2 में भी अनंग्शा बिस्वास धमाल मचाने को तैयार हैं
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अनंग्शा बिस्वास को भी मिर्जापुर सीजन-2 के रिलीज होने का बेसब्री से इंतजार है
  • इसमें वे जरीना की भूमिका में फिर से धमाल मचाएंगी
  • वे होस्टेजेज के सीजन-2 में भी हैं

बंगालन बाला अनंग्शा बिस्वास को भी मिर्जापुर सीजन-2 के रिलीज होने का बेसब्री से इंतजार है. यह 23 अक्तूबर से अमेजन प्राइम पर दिखने वाला है. वे कहती हैं, "इसमें मैं जरीना बेगम ही हूं. लेकिन इस बार जरीना का कैरेक्टर ग्राफ बहुत बदला हुआ दिखेगा. दर्शकों को काफी मजा आएगा. यह जरीना भी हर दिल पर राज करेगी." पहले सीजन में जरीना के रूप में अनंग्शा तीन-चार सीन में ही नजर आई थीं. "मुझे छोटे रोल या कम सीन से फर्क नहीं पड़ता. महत्वपूर्ण बात यह है कि वह रोल कितना दमदार है. पहले सीजन में जरीना मिर्जापुर जैसे स्मॉल टाउन की इंटरटेनर है यानी वह अभिनेत्री है. पहले सीजन में मेरे ऊपर एक गाना भी था. और दर्शकों ने मेरे ऊपर दिल खोलकर प्यार बरसाया. आज भी मेरे कानों में दर्शकों की आवाज गूंजती है जरीना जरीना," अनंग्शा बेहद खुश होकर कहती हैं.

मिर्जापुर सीजन-2 से पहले होस्टेजेज का भी सीजन-2 हॉटस्टार पर धमाल मचा रहा है. अनंग्शा इसके पहले सीजन में थीं और अब सीजन-2 में भी हैं. इसमें वो हाइमा का कैरेक्टर निभा रही हैं. अनंग्शा के शब्दों में, "जरीना और हाइमा अलग-अलग डायमेंशन वाले कैरेक्टर हैं जिसे करने में मुझे तो मजा आया ही, साथ में दर्शकों ने काफी एंज्वाय किया है. एक ऐक्टर के तौर पर मैं यह भी कह सकती हूं कि अलग-अलग कैरेक्टर को जीवंत करने का अपना ही सुख है. जरीना जहां इंटरटेन करती है वहीं हाइमा एक लड़ाकू कैरेक्टर है."

अनंग्शा को कोलकाता से मुंबई आए हुए आठ-नौ साल हो गए. लेकिन इतने वर्षों में उन्होंने गिनती की फिल्मों और वेब सीरीज में काम किया है. इससे वो हताश नहीं हैं. उनका कहना है कि गॉडफादर के बिना वो अपनी मंजिल की तरफ बढ़ रही हैं. रफ्तार भले ही धीमी है. मगर बहुत सुकून के साथ अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर रही हैं और उन्हें इस इंडस्ट्री में काम मिल रहा है. अनंग्शा ने सिडनी से अभिनय का प्रशिक्षण लेकर बॉलीवुड में प्रवेश लिया था. इससे पहले वो थिएटर करती थीं. नाटक में उनके अभिनय को देखकर फिल्मकार सुधीर मिश्रा ने उन्हें अपनी फिल्म खोया खोया चांद में छोटा-सा रोल दिया था. सुधीर मिश्रा उनके अभिनय के कायल हैं, सो उन्हें होस्टेजेस में दोहराया है. थिएटर से अनंग्शा का रिश्ता अब भी है. उन्होंने नसीरुद्दीन शाह और‌ बेंजामिन गिलानी जैसे स्टार के साथ‌ भी‌ थिएटर किया है. वे कहती हैं, "थिएटर मेरी आत्मा है. थिएटर के जरिए ही मुझे फिल्मों और वेब सीरीज में काम मिल रहा है. मैं अब भी थिएटर‌ करती हूं." अनंग्शा मानती हैं कि उन जैसे अभिनेता और अभिनेत्रियों के लिए अभी अच्छा समय है, हमें काम मिल रहा है और हमारे काम से दर्शक खुश हैं. वे हमें बार-बार देखना चाहते हैं. अनुराग कश्यप की फिल्म लव शुभ ते चिकन खुराना में भी अनंग्शा ने शमा चटर्जी का कैरेक्टर किया था. अनंग्शा बताती हैं, "इस समय मैं सौमित्र सिंह‌ के साथ टैक्सी नंबर 24 कर रही हूं जिसमें मेरे कैरेक्टर का नाम रोज है. यह बहुत ही मजेदार कैरेक्टर है. इस फिल्म में महेश मांजरेकर भी हैं."

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद भाई-भतीजावाद और‌ आउटसाइडर-इनसाइडर के विवाद ने छोटे शहरों से आने वाले कलाकारों के मन में एक अलग तरह का डर पैदा कर दिया है. अनंग्शा इस बात वाकिफ हैं और‌ मानती हैं कि छोटे शहरों से कलाकारों का आना कम हो सकता है. लेकिन प्रतिभाशाली कलाकारों को डरने की जरूरत नहीं है. इस इंडस्ट्री में किसी की प्रतिभा को दबाया नहीं जा सकता है. यह सच है कि कुछ समय के लिए ब्रेक लग सकता है. मगर उसे इंडस्ट्री से बाहर नहीं किया जा सकता है. यहां भाई-भतीजावाद है. इससे इनकार नहीं कर सकते. लेकिन इससे डरने की भी जरूरत नहीं है. डटे रहिए और अपने हक का काम करते रहिए. अनंग्शा खुले तौर पर कहती हैं कि कुछ कलाकार अपने रूट्स तो भूल जाते हैं. उन्हें मालूम होना चाहिए कि रूट्स की खुशबू आपको अलग मुकाम देती है. उससे आपके अभिनय में निखार आता है. आज के नए सिनेमा और वेब सीरीज इसके गवाह हैं. हम अपने रूट्स पर खड़े रहेंगे तो इस इंडस्ट्री को बदल सकते हैं. अनंग्शा स्मिता पाटील से प्रभावित हैं और उनकी तरह अभिनय करना चाहती हैं. अनंग्शा ने कोरोना की वजह से लॉकडाउन के दौरान सकारात्मक काम करके खुद को व्यस्त रखा. योगा किया और मनपसंद किताबें पढ़ी. खासकर जापानी लेखक हारुकी मुराकामी की किताबें पढ़ी. अनंग्शा अपनी सकारात्मक सोच के साथ इंडस्ट्री में अपना बेहतर भविष्य देख रही हैं.

***

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें