scorecardresearch
 

इकोनॉमिकम

फोटोः इंडिया टुडे

कंपनी के मुनाफे गिरने का पड़ेगा आपकी जेब और जिंदगी पर भी असर

17 जून 2020

कोविड-19 के कारण प्रभावित हुईं आर्थिक गतिविधियों के चलते देश की आर्थिक विकास दर में तीखी गिरावट की आशंका है. जीडीपी की संभावित गिरावट का देश के छोटे और मझौले उद्योगों पर गहरा असर पड़ेगा.

epfo

ईपीएफओ से क्या मिलेगी राहत

19 मई 2020

कोविड-19 के असर से अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए सरकार की ओर से घोषित 20 लाख करोड़ के राहत पैकेज में कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) से जुड़ी राहतें भी शामिल हैं. कर्मचारी के स्तर पर ईपीएफओ से जुड़ी दो प्रमुख राहतें दी गई हैं. 

आरबीआइ

इकोनॉमिकमः रिवर्स रेपो रेट में कटौती से क्या आपकी बचत पर पड़ेगा असर?

17 अप्रैल 2020

बीते हफ्ते आए आंकड़ों के मुताबिक बैंकों से कर्ज लेने की रफ्तार पांच दशक के निचले स्तर 6.14 फीसदी पर है. यानी कर्ज लेने वालों की संख्या में बढ़ोतरी की रफ्तार सुस्त है. ऐसे में अगर बैंकों में नकदी बढ़ने के बाद कर्ज की मांग नहीं आई तो यह पैसा बैंकों के लिए सिरदर्द बन जाएगा.

आरबीआई ने बैंकों अगले तीन महीने तक उपभोक्ताओं को ईएमआइ से सभी को राहत देने की सलाह दी

रिजर्व बैंक के फैसले के बाद मन में उठे 10 अहम सवालों के जवाब

27 मार्च 2020

सरकार की ओर से देश की बड़ी आबादी (किसान, बुजुर्ग, महिलाएं) को कुछ न कुछ देने के बाद आज केंद्रीय बैंक ने नीतिगत दरों में अभूतपूर्व कटौती की. साथ ही बैंकों को अगले तीन महीने तक कर्ज की किस्त (ईएमआइ) से सभी को राहत देने की सलाह दी.

एसबीआइ बैंक

क्या है एसबीआइ के बचत खाते पर ब्याज घटने की असली वजह?

19 मार्च 2020

सुस्त मांग और बढ़ती जमा के दबाव में बैंकों के पास जमा पर रिटर्न घटाना ही अंतिम विकल्प बचता है क्योंकि बैंकों में जमा लेने से तो मना किया नहीं जा सकता है.

जीत के बाद अरविंद केजरीवाल

इकोनॉमिकमः जनता मांगे मुफ्त वो भी बिना शर्त

11 फरवरी 2020

तेलंगाना में केसीआर, 2019 में नरेंद्र मोदी और बड़े बहुमत के साथ वापसी और अब दिल्ली में केजरीवाल की बरकरार धमक यह दिखाती है कि जनता को अगर हाथ में कुछ मुफ्त मिलता है वो भी बिना नियम शर्तों के तो इसका फायदा सीधा सत्ताधारी सरकार को होता है.

फोटोः पीटीआइ

इकोनॉमिकमः आयकर की राहत कितने काम की?

06 फरवरी 2020

सरकार चाहती है कि करदाता नई व्यवस्था को अपनाएं. सरकार की मंशा इसके पीछे केवल कर बचाने के लिए की जाने वाली बचत को हतोत्साहित करना है, जिससे ज्यादा से ज्यादा पैसा करदाता के हाथ में हो और वे इसे खर्च करके टूटी खपत की मरहम पट्टी कर सकें. 

एलआइसी

इकोनॉमिकमः बाजार में LIC के शेयर बिकने से क्या होगा?

04 फरवरी 2020

आंकड़ों से निकलकर जरा हकीकत से रू-ब-रू होइए. एलआइसी की लिस्टिंग का मतलब केवल सरकार की हिस्सेदारी बिकने और शेयर बाजार में कारोबार शुरू होने भर से नहीं है. एलआइसी के बाजार में सूचीबद्ध होने से दरअसल कई ऐसे रहस्यों से पर्दा उठेगा जो सालों से दबे है.

कोरोना वायरस से वैश्विक अर्थव्यवस्था प्रभावित

इकोनॉमिकमः कोरोना वायरस से थर्राया बाजार, लेकिन क्यों?

29 जनवरी 2020

चीन को दुनिया का कारखाना कहा जाता है. ऐसे में अगर चीन जैसी बड़ी अर्थव्यवस्था में कोई वायरस फैलता है तो यह दुनियाभर की अर्थव्यवस्था पर असर डालता है.

फोटो सौजन्यः इंडिया टुडे

सरकार के विनिवेश लक्ष्य से चूकते ही बढ़ेंगी कई मुश्किलें

23 जनवरी 2020

मौजूदा आर्थिक परिदृश्य में जब कर संग्रह के मोर्चे पर सरकार बुरी तरह पिछड़ चुकी है तब विनिवेश से भी झोली में कुछ खास आने की उम्मीद नहीं है

फोटो सौजन्यः बिजनेस टुडे

इकोनॉमिकमः आयकर में ढाक के वही तीन पात

22 जनवरी 2020

इस बार सरकार ने जनवरी में आयकर रिटर्न भरने के लिए नए फॉर्म नोटिफाइ कर दिए हैं, जिससे यह संभावना तलाशी जा सकती है कि अगर सर्वर नहीं बैठा तो शायद अंतिम तारीख भी न बढ़े